Ads

एक नाम ने ले ली महिला, की जान चीख सुन पहुंचे अन्य पड़ोसी

81

गुजरात में एक महिला को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। इस वारदात में महिला बुरी तरह झुलस गई हैं। घटना के बाद 35 साल की नीताबेन सरवैया का इलाज फिलहाल भावनगर के एक अस्पताल में चल रहा है।

इस भयानक वारदात को अंजाम देने का आरोप महिला के पड़ोसियों पर लगा है।

पालतू कुत्ते के नाम को लेकर नाराज थे पड़ोसी

बताया जा रहा है कि नीताबेन सरवैया ने अपने कुत्ते का नाम ‘सोनू’ रखा था। इत्तिफाक से ‘सोनू’ नीताबेन सरवैया के पड़ोस में रहने वाले सुराभाई भारवाड की पत्नी का नाम भी है। यही बात सुराभाई भारवाड को पसंद नहीं आई।

जिसके बाद गुस्से में आकर उन्होंने अपने कुछ सहयोगियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया।

नीताबेन ने पुलिस को सुनाई आपबीती

loading...

जानकारी के मुताबिक सोमवार की दोपहर नीताबेन के पति और उनके दो बेटे किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। नीताबेन अपने घर पर अपने छोटे बेटे के साथ थीं। मौका पाकर सुराभाई भारवाड और उनके 5 अन्य सहयोगी

नीताबेन के घर में घुस गए। पुलिस ने बताया कि घर में आने के बाद इन लोगों ने नीताबेनको गालियां दीं और कुत्ते का नाम ‘सोनू’ रखने को लेकर उन्हें बुरा-भला कहा।

नीताबेन ने इनकी बातों को अनसुना किया और अपने रसोईघर में चली गईं। इसके बाद तीन लोग भी जबरन रसोईघर में घुस गए और इन लोगों ने नीताबेन पर केरोसिन छिड़क कर उन्हें जिंदा आग के हवाले कर दिया।

चीख सुन पहुंचे अन्य पड़ोसी

आग में बुरी तरह झुलसी नीताबेन की चीखें सुन अन्य पड़ोसी वहां पहुंच गये। कुछ ही समय बाद नीताबेन के पति भी घर पर पहुंच गए। इसके बाद किसी तरह कंबल के जरिए इस आग को बुझाया गया। नीताबेन को जली हुई हालत में

अस्पताल में दाखिल कराया गया।

6 लोगों पर FIR

पुलिस ने बताया कि नीताबेन और उनपर हमला करने वाले लोगों के परिवार के बीच पहले भी कई बार पानी की सप्लाई को लेकर कहासुनी हो चुकी है। आग लगाने की इस घटना में 6 लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न

धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस अब आगे की कानूनी कार्रवाई कर रही है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.