अब आप जियो कंपनी से कमा सकते हैं तीस से पचास हज़ार रूपए – जाने बस एक क्लिक में

107

आपको बता दें कि रिलायंस जिओ पिछले 2 साल में टेलीकॉम सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है। इसके ग्राहकों की संख्या 25 करोड़ के पार पहुंच चुकी है और इस संख्या में लगातार वृद्धि जारी है। जैसा आप जानते हैं कि कुछ ऐसे इलाके हैं जहां पर जियो का नेटवर्क थोड़ा कमजोर आता है।

Reliance Jio Tower installation at Residence

आपको बता दें कि रिलायंस जियो अपने नेटवर्क सुविधा को मजबूत करने के लिए देशभर में एक लाख नए टावर लगवाने जा रही है, तो यदि आप भी अपनी खाली जमीन पर जियो का टॉवर लगवाने के इच्छुक हैं तो इस खबर को पूरा जरूर पढ़ें।

Reliance Jio Tower installation at Residence

जैसा आप जानते हैं कि कंपनियां इलाके में अपना टावर लगवाने के के ऐसे व्यक्ति से संपर्क करती हैं जिनके पास टावर लगवाने के लिए जमीन उपलब्ध होती है। दोस्तों यदि ऐसे में आपके पास भी जमीन उपलब्ध है तो आप उस पर टावर लगवा कर पैसे कमा सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यदि आप अपनी जमीन पर टावर लगवाने के इच्छुक हैं, तो आपको इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। हालांकि अभी आवेदन की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। आवेदन करने के बाद कंपनी की टीम उस जगन का सर्वे करेगी। जिसके बाद वहां पर टावर लगाया जाएगा। टावर लगवाने के लिए न्यूनतम आपको ₹30,000 अधिकतम ₹50,000 तक की राशि दी जाएगी।

Advertisement

टावर लगाने के लिए वेबसाइट पर क्लिक करें : www.jiotwoerinstallation.co.in

4 आसान से सवालों के जवाब देकर जीतें 400 रु– यहां क्लिक करें

जिओ Sale :- 
Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

यह है वो 4 भारतीय खिलाडी जिनका 2019 विश्व कप में खेलना पक्का | Top 4 batsman play in world cup 2019

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Advertisement

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.