उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन कोमा में हैं, इन दावों की बीच उनकी बहन को सौंपी जा सकती है सत्ता

366

उत्तर कोरियाई (North Korea) तानाशाह किम जोंग (Kim Jong Un) उन एक कोमा (Coma)में हैं और उनकी बहन किम यो जोंग राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मामलों को संभालने की तैयारी कर रही हैं। दक्षिण कोरिया के दिवंगत नेता किम जोंग उन के पूर्व सहयोगी ने किम जोंग उन के कोमा में जाने के बारे में एक पोस्ट किया है।

चांग सोंग मिन, जिन्होंने दिवंगत नेता किम जोंग उन के समय में राजनीतिक मामलों के राज्य सचिव के रूप में कार्य किया, ने कथित तौर पर सोशल मीडिया पर दावा किया कि कोई भी उत्तर कोरियाई नेता अपनी शक्ति और अधिकार किसी अन्य नेता को नहीं सौंपेगा। जबतक कि वो बहुत बीमार न हो या फिर उसे तख्तापलट के जरिए हटा न दिया गया हो.

loading...

द कोरिया हेराल्ड में मिन के हवाले से कहा गया है कि ‘मेरा यह अनुमान है कि वो (किम जोंग उन) कोमा में हैं, लेकिन अभी उनकी मौत नहीं हुई है.’ चांग संग-मिन ने लिखा। उत्तर कोरिया में एक पूर्ण उत्तराधिकारी संगठन का गठन नहीं किया गया है, इसलिए किम यो जोंग को आगे लाया जा रहा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि पद को लंबे समय तक खाली नहीं रखा जा सकता है।

चांग ने दावा किया कि एक चीनी सूत्र ने उन्हें सूचित किया था कि किम बेहोश था। दक्षिण कोरियाई डेली के अनुसार, सियोल की जासूसी एजेंसी ने सांसदों को एक बंद कमरे में सत्ता की व्यवस्था के बारे में बताया कि किम अपने सबसे विश्वसनीय सहयोगियों के साथ साझा अधिकारों और जिम्मेदारियों के लिए प्रकट होता है।

हालांकि, राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी का कहना है कि नई प्रणाली किसी भी गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ी नहीं है। चांग का दावा है कि जब किम जोंग उन ने अपने स्वास्थ्य के बारे में बढ़ती अटकलों पर सार्वजनिक रूप से बयान नहीं दिया था। केसीएनए की रिपोर्ट के अनुसार, 2 मई को किम जोंग को एक उर्वरक कारखाने का रिबन काटते हुए देखा गया था, लेकिन चांग ने आरोपों से इनकार किया।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.