भारतीय जैन संघटना का राष्ट्रीय अधिवेशन 12-13 मार्च 2022 को उदयपुर में

148

भारतीय जैन संघटना का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन मार्च 2022 में उदयपुर में होगा। 12 व 13 मार्च 2022 को होने वाले इस अधिवेशन की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

भारतीय जैन संघटना के संस्थापक शांतिलाल मूथा ने बताया कि इस अधिवेशन में देशभर से तीन हजार से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे। दो दिवसीय अधिवेशन की थीम ‘‘जैनों का विश्वास, देश का विकास’’ पर आयोजित होगा। वहीं टेग लाइन ‘रिफार्म, परफार्म, ट्रांसफार्म’ होगी।

loading...

उन्होंने बताया कि विगत 37 वर्षों में बीजेएस पूरे देशभर में सामाजिक, शैक्षणिक एवं प्राकृतिक आपदाओं के क्षेत्र में कार्य करती रही है। समाज की समस्याओं पर शोधपूर्वक योजना बनाकर उनके समाधान की ओर अग्रसर होने के लिए भारतीय जैन संघटना कटिबद्ध है। प्रत्येक दो वर्षों में अधिवेशन आहूत कर संपादित कार्यों की समीक्षा तथा आने वाले दो वर्षों के एक्शन प्लान बनाए जाते है। महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडू में पिछले अधिवेशन संपादित हुए हैं।

मूथा ने बताया कि प्राकृतिक आपदा में अग्रणी कार्य करने वाली संस्था ने पिछले दो वर्ष के कोरोना कार्यकाल में देश के भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में राहत पहुंचाते हुए मोबाइल डिस्पेंसरी सेवा के माध्यम से 25 लाख से अधिक लोगों का हेल्थ चैकअप किया वहीं मिशन जीरो के अन्तर्गत एन्टीजन टेस्ट करने का काम भी द्रुतगति से किया। एशिया की सबसे बड़ी झोपड़पट्टी धारावी में कोरोना नियत्रंण के लिए बीजेएस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अपनी सेवाएं दी। संस्था द्वारा देशभर में 10 हजार ऑक्सीजन कंसनट्रेटर के माध्यम से ऑक्सीजन बैंक खोलकर विषम परिस्थिति में सहायता प्रदान की गई वहीं, राजस्थान में एक हजार ऑक्सीजन कंसनट्रेटर के ऑक्सीजन बैंक का उद्घाटन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत द्वारा किया गया।

उन्होने बताया कि गत एक दशक से सूखे का मुकाबला कर रहे देश में पानी की समस्या से निजात पाने के लिए सुजलाम-सुफलाम योजना के माध्यम से जल संरक्षण का काम भी बीजेएस ने हाथ में लिया है। जिस पर विभिन्न प्रदेशों में इस पर कार्य प्रारम्भ किया गया। राजस्थान में भी शीघ्र ही इस पर कार्य प्रारम्भ कर दिया जाएगा। पिछले 37 वर्षोंं के अनुभव के आधार पर पूरे संगठन को रिस्ट्रक्चर करने का काम अन्तराष्ट्रीय संस्था केपीएमजी के सहयोग से किया जा रहा है। इसका अंतिम रूप उदयपुर अधिवेशन में तैयार किया जाएगा। अधिवेशन की सफलता के लिए हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र लूंकड़ एवं राष्ट्रीय महासचिव संप्रति सिंघवी तथा सभी राज्यों के अध्यक्ष सक्रिय हो गए हैं।

बीजेएस के राजस्थान इकाई के प्रदेशाध्यक्ष राजकुमार फत्तावत ने बताया कि देशभर में स्मार्ट गर्ल प्रशिक्षण, मेट्रोमोनियल मीट, बिजनेस डवलपमेन्ट सेमिनार, अल्पसंख्यक को मिलने वाले लाभ की जानकारी, हैप्पी फैमेली, कॅरियर काउंसलिंग, यंग एमबीए आदि जन सेवा के कार्य किए जा रहे हैं। कोरोना महामारी में पूरे प्रदेश में एक हजार ऑक्सीजन कंसनट्रेटर, 100 ऑक्सीजन सिलेण्डर, होम आइसोलेटेड पेशेन्ट के लिए कोरोना हेल्प लाइन, जरूरतमंदों को राहत सामग्री का वितरण आदि कार्य भी किया गया। उदयपुर संभाग में 350 ऑक्सीजन कंसनट्रेटर की सहायता से अलग-अलग तहसील मुख्यालय पर ऑक्सीजन बैंक की स्थापना, उदयपुर में 37 दिनों तक 21 हजार से अधिक घर-घर टिफिन पहुंचाने का कार्य भी किया गया। अधिवेशन के मद्देनजर प्रदेश एवं जिला के पदाधिकारियों द्वारा अधिवेशन के लोगो का भी विमोचन किया गया।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.