Multilayer farming: एक खेत में 4 फसलें लगाएं और पाएं बंपर मुनाफा, अपनाएं ये तकनीक, पूरी जानकारी विस्तार से पढ़ें

0 45

Multilayer farming: नई तकनीकों के आने से किसानों के लिए खेती पहले की तुलना में थोड़ी आसान हो गई है। मुनाफा भी बढ़ा है। ऐसी ही एक तकनीक है बहुस्तरीय खेती, जिसे अपनाने से किसान कम समय में ही अमीर बन जाएंगे।

बहुस्तरीय खेती क्या है? –

एक ही समय और स्थान पर 4 से 5 फसलें उगाने की प्रथा बहुस्तरीय खेती द्वारा की जाती है। इसके लिए किसान पहले ऐसी फसल मिट्टी में लगाएं, जो मिट्टी के अंदर उगती हो। फिर उसी खेत में सब्जियां और अन्य पौधे लगाए जा सकते हैं। इसके अलावा किसान उसी खेत में फलदार पेड़ लगा सकते हैं।

Multilayer farming: 70 प्रतिशत पानी की बचत-

जानकारों के मुताबिक अगर बहुस्तरीय तकनीक से खेती की जाए तो 70 फीसदी पानी की बचत होती है। जब मिट्टी में जगह नहीं होती है तो खरपतवार नहीं होते हैं। एक फसल में जितना अधिक उर्वरक लगाया जाता है, उतनी ही अधिक उर्वरक एक से अधिक फसलों को प्राप्त होता है। फसलों को एक दूसरे से पोषक तत्व मिलते हैं। किसानों का लाभ भी कई गुना बढ़ जाता है।

कम जमीन वाले किसानों के लिए फायदेमंद-

कम जमीन वाले किसानों के लिए इस तकनीक से खेती करना काफी लाभदायक हो सकता है। किसान एक फसल को पानी देकर चार तरह की फसल उगा सकते हैं। इससे उनकी खेती की लागत कम होगी और उन्हें अधिक जमीन रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

बहुस्तरीय खेती में व्यय –

बहुस्तरीय खेती की लागत बहुत कम है। अन्य फसलों की तुलना में इसकी लागत सामान्य से कम है। जानकारों के मुताबिक एक किसान आसानी से एक लाख रुपये तक का मुनाफा कमा सकता है।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply