मुहं में छाले का इलाज

0 143

मुंह और जीभ के छाले का इलाज अब अपने घर पर करे . एक छोटी सी फुंशी जो की मुहं में होने से लगातार दर्द होता है, जिसके कारण दिन प्रतिदिन की रोजमर्रा की कामो में काफी असहाय महसूस होता है | मुंह के छाले होने के कई कारण हो सकते है, परन्तु ठीक से घर पर इलाज करने से इससे छुटकारा पाया जा सकता है |

Meaning of Mouth Ulcer in Hindi

Mouth ulcer = मुह के छाले

example = मुह के भीतरी भागो में बनने वाले गोलाकर चकती |

मुहं में छाले होने के कारण

कई कारणों से हमारे मुह में छाला होते है, इसका कई कारण हो सकते है | जैसे –

  • मसालेदार भोजन के अधिक सेवन करने से |
  • समय बचाने के उपक्रम में जल्दी जल्दी खाने से |
  • vitamin – B complex की कमी से |
  • खाने के समय अगर हमारे दांतों से मुह के भीतरी भाग को चबा जाने से |

मुह के छाले का उपचार 

मुह का छाला वैसे तो, आसानी से कुछ दिनों के बाद चला जाता है | परन्तु कभी कभी लम्बे समय तक यह रह जाता  है, जिससे काफी परेशानिया होती है |  इससे कई आसान तरीको को अपना कर इससे छुटकारा पाया जा सकता है |

  • अगर आप के मुह में अलसर हुवा हो तो अधिक से अधिक पानी का इस्तेमाल करे |
  • रोजाना दिन में तीन बार ब्रश करे |
  • ब्रश हमेशा मुलायम धागों वाला ही इसतेमाल करे |
  • मसालेदार भोजन अलसर को बढ़ा सकता है , इसका भी सेवन कम करे |
  • तंबाकू का सेवन कम करे | इन सब के सेवन से मुह के छाले में बढ़ोतरी होती है |
  • नीम का toothpaste का इस्तेमाल दांत साफ करने के लिए करे | इससे भी फायेदा मिलेगा |

हल्दी 

हल्दी सदियों से उपचार के इलाज में इस्तेमाल किया जा रहा है | हल्दी का आयुर्वेद में तो हजारो सालो से इसका फलदायी उपयोग हो रहा है | आइये जानते है हल्दी को मुह के छाले होने पर कैसे उपयोग किया जाये –

  • एक ग्लास पानी ले उसमे एक चम्मच हल्दी का powder को मिला ले, और उसे हल्का गर्म कर ले |
  • हल्दी mix गर्म पानी से दिन में 20 से 25 बार गर्गिल करे |

शहद और इलाइची (honey & cordomon paste)

शहद के साथ इल्लैची के powder को मिलकर उसका paste को छाले वाले जगह पर लगाने से छाला कम हो जाता है |

    • एक चम्मच शहद ले उसमे 2 या 4 इल्लैची क के डेन की पिसा हुआ powder को mix कर ले |
    • अब उससे तैयार paste को छाले में लगा कर रखे |

धनिया पत्ता

    •  सब्जियों में सुगंध के लिए इसके पत्ते की इस्तेमाल किया जाता है |
    • दो चार धनिये के पत्ते समेत तने को हलके से निचोड़ कर उसका रस को सीधे छाले में लगाये |

चमेली 

चमेली/ एक फूल के पौधा का नाम है | जिसमे लाल रंग के छोटे छोटे फूल,  गुछे के रूप में होते है |

चमेली के पत्ते को पीस कर उसके रस को छाले वाले जगह में लगाने से छाला कम हो जाता है |

अमरुद

  • अमरुद = guava, यह cheery प्रजाति का फल है, जो मुख्यता tropical climate वाले देशो में पाए जाते है |
  • अमरुद के दो पत्तियों को अपने हाथो से मसल कर के उसके रस को छाले में गर दे |

बर्फ के टुकड़े 

  • बर्फ के टुकड़े से छाले वाले जगह पर रखने से भी छाला ठीक हो जाता है |
  • बर्फ के छोटे से सिल्ली को मुह के ulcer में 20 से 25 second तक रखे |
  • इस प्रक्रिया को बरी बरी से 4 से 5 बार लगातार करे |

तुल्सी का पत्ता 

  • तुल्सी का पत्ता/ तुल्सी का पत्ता हर किसी के आंगन में मिलता है | हिन्दू धर्म को मानने वाले अक्सर अपने आंगन में इसके पौधे को उगाते है | यह उनके धार्मिक विस्वास के प्रतिक होता है |
  • दो से चार तुल्सी के पत्ते को अपने हाथो में मसल ले फिर उसके रस को मुह में छाले के ऊपर गर दे |

नारियल पानी 

नारियल पानी ना केवल हमारे शरीर बल्की मुह के छाले में भी लाभदायक है –

    • नारियल के भीतर पाए जाने वाली तरल को पिने से पेट ठंडा रहता है जिससे छाला जैसी समस्या नहीं होती |

Sab Kuch Gyan से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

loading...
loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.