स्थलीय घोंघा / Snail

0 333

स्थलीय घोंघा एक अमेरूदण्डीय प्राणी है जो नमी युक्त घास के मैदान तथा बगीचों में पाया जाता है। यह स्वभाव से एक निशाचार प्राणी है और चट्टानों तथा लकड़ी के लठ्ठों के नीचे आराम करता है। यह एक शाकाहारी प्राणी है। इसका शरीर नरम होता है जो एक घुमावदार एवं कड़े खोल में बंद रहता है। खोल में एक बड़ा छिद्र होता है जो एक ढक्कन के द्वारा बंद रहता है।

ढक्कन के खुलने से मांसल पाद बाहर निकलकर चलने लगता है। ज्यों ही स्थालीय घोंघा को किसी आघात का आभास होता है, पाद अंदर चला जाता है एवं ढक्कन बंद हो जाता है। घोंघा के सिर पर एक मुख और दो जोड़े बड़े एवं छोटे टेन्टाकिल्स होते हैं। बड़े टेन्टाकिल्स पर एक-एक आँखें पायी जाती हैं।
स्थलीय घोंघा रेगिस्तान से लेकर समुद्र में पाए जाते है। ज़्यादातर घोंघे समुद्र में मिलते है। ज़्यादातर घोंघे शाकाहारी होते है लेकिन इनमें से कुछ मासाहारी भी होते है।

loading...

loading...