दवाई फेल है इस जूस के सामने किन-किन रोगों में उपयोगी है?

199

महिला ने गेंहू जवारे से होने वाले फायदे के बारे में एक प्रयोग करके हम सभी मानव जाती के लिये एक वरदान दिया है. उनका कहना है की अगर मानवा जाती को निरोगो जीवन जगणे की आस है तो गेंहू के जवारे का रस सेवन करे ये वरदान से कम नही.

इन्सान के इतने सारे रोगो के अलावा 350 रोगो पर यह गेंहू के जवारे का असर होता है. मगर हम इन्सान को कुच्छ होने वाले रोगो के बारे में जानकारी दे रहे है. कैन्सर, गठीया, पेट गैस, हृद्यरोग, पुराणी एलर्जी, आंखो की रोशनी, खून बढाये, लिवर, डायबेटी, लकवा, पायरिया, जोडो में सुजन बालो का झडना, बाल सफेद होणा, दमा, पाचनक्रिया, मूत्राशय की पथरी और जीवन मरण के रोग की संजीवनी बुटी.

loading...

एक प्रयोग से पत्ता चला है की गेंहू के जवारे से विटामिन, बी12 और एंटीऑक्सीडेंट, अमीनो अम्ल पाये जाते है. इनके कारण शरीर में पैदा होने वाले जहरीले पदार्थो को गेंहू के जवारे मुक्त करते है. इसलिये गेंहू के जवारे को अमृत का दर्जा दिया गया है. एशिया खंड, युरोप और अमेरिका यहा पर यह जवारे का प्रयोग इन्सान नियमित रूप से कर रहा है.

गेंहू के जवारे का रस पिणे का एक विषेश पद्धत है गेंहू के जवार के रस को एक ही घुट में न पिये एक एक घुट पिये एैसा करणे से शरीर की पाचनक्रिया मजबूत और अच्छी बनती है. गेंहू के जवारे इन्सान के लिये एक संजीवनी से कम नही उपर दिये हुये रोगो के साथ 350 रोगो में इस का सीधा असर होता है. इसलिये गेंहू के जवारे का रस सेवन करना मानव शरीर के लिये एक वरदान से कम नही और संजीवनी से बढकर नही.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.