वजन कम करें 15 दिनों में

196

दोस्तों, भारत में आज बिना खाये मरने वाले लागों से बहुत ज्यादा ऐसे लोगों की संख्या है जो खूब खा पी कर बीमार पड़ रहे हैं और अपनी मौत की तैयारी कर रहे हैं । उदाहरण के लिये आज देश में ब्लड प्रेशर, शुगर, दिल की बीमारियों और किडनी फेल होने से होने वाली मौत के आंकड़ें बढ़ते ही जा रहे हैं । बड़े दुख की बात है कि ये चारों जानलेवा बीमारी की शुरूआत मोटापे से शुरू होती है । आज भारत में दुनिया के सबसे ज्यादा शुगर पेशेंट हैं और यह आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है । मोटापे से आपको इन चार बीमारियों के अलावा और भी कई बीमारियॉं होती है जैसे गठिया, लीवर की जानलेवा बीमारियॉं, अल्सर, कब्ज, बावासीर,भगंदर और दूसरी तमाम बीमारियॉं । आज स्वस्थ रहने का एक ही मूल मंत्र है और वह है वजन कंट्रोल करना, मोटापे से दूर रहना ।कुछ छोटी छोटी चीजों से हम इस बीमारी को दूर भगा सकते हैं । हॉं इसके लिये एक चीज बहुत जरूरी है और वह हैं इच्छा शक्ति का होना क्योंकि बहुत बार हम कल  से शुरू करेंगे या अगले महीने से शुरू करेंगे, सोचते सोचते बहुत देर कर देते हैं ।

वजन कम करने का जो तरीका मैं आपको बताने जा रहा हूं इस तरीके से मैंने कई बार अपना बढ़ा वजन 5 से 8 किलो तक कम किया है और वह भी बिना कुछ अधिक खर्च किये और बिना किसी दवा या फ़ूड सप्लीमेंट के । जरूरत है बस 15 दिनों तक अपने ऊपर संयम रखने की और इच्छा शक्ति की ।

  1. अगर व्यक्ति अपने कद के अनुसार अपना वजन बनाये हुये हैं तब वह औसत उम्र से 20 से 30 वर्ष अधिक जीता है ।
  2. खाना खाने के तुरंत बाद एक गिलास खूब गर्म पानी धीरे धीरे पीयें । यह भोजन को पचाने में मदद करता है और शरीर में जमा चर्बी को भी गलाता है ।
  3. वजन कम करने के लिये आप कम से कम 15 दिन की योजना बना कर चलें ।  कुछ हफ्तों तक तली-भुनी चीजों (पूड़ी-परांठा), घी-तेल, मिर्च, मसालों, फैटी चीजें जैसे मैदा, मीट, अंडा और मिठाईयों से दूर रहें ।  खमीर से पैदा हुयी चीजों का सेवन भी न करें ।
  4. फलों और सब्जियों का सेवन बढ़ा दें और भोजन में सलाद का इस्तेमाल अधिक करें । सब्जियों का सूप, फलों का रस, अंकुरित अनाज का सेवन करें
  5. सवेरे नाश्ते में रात में भिगोये हुए  मुन्नका, छुआरा, अंजीर, बादाम का सेवन करें .
  6. पानी का सेवन बढ़ा दीजिये । कम से कम 4 से 5 लीटर पानी पीजिये ।
  7. सवेरे कम से कम 30 मिनट की वॉक जरूर करें । अगर जॉगिंग कर सकते हैं तो और अच्छा होगा ।

  1. सूर्य नमस्कार शुरू में 5 से 10 बार करने का प्रयास करें । यह अपने आप में सम्पूर्ण व्यायाम है । कई फिल्म अभिनेत्रियॉं एक बार में 15 से 20 बार तक सूर्य नमस्कार करती है । यह पूरे शरीर को हिला देने वाला व्यायाम है । जरूरी नहीं की आप मंत्रों के साथ ही इसे करें । दस बार करने के बाद आप देखेंगे की शरीर से पसीना निकलने लगा है । इसको किसी जानकार से सीखने के बाद ही करें, परे करें जरूर, यह एक जादुई व्यायाम है जिसका पता इसे करने के बाद ही मालूम पड़ता है ।
  2. अनुलोम विलोम के साथ कपालभाति प्राणायाम भी करें । प्राणायाम एक बोरिंग व्यायाम है लेकिन यह भी एक जादुई व्यायाम है । बोरियत से बचने के लिये मैं एक तरीका अपनाती हूं । प्राणायाम सात तरह के होते हैं । आप इन्हें करने के दौरान मोबाइल पर कोयी भजन या गाना लगा लें । जब तक वह आडियो फाइल चलती रहेगी आपका मन लगा रहेगा साथ ही यह संकल्प भी करिये की जब तक यह गाना चलेगा में प्राणायाम करती रहूंगी । इसके लिये आप 10 से 30 मिनट तक की फाइल चुन सकती हैं ।
  3. अगर आप कोयी आउट डोर खेल खेलने के शौकीन हैं जैसे बैडमिंटन, टेनिस आदि तो वह खेल खेलना शुरू कर दीजिये ।
  4. घर से थोडी दूर जाने के लिये गाड़ी का इस्तेमाल बंद कर दीजिये । पैदल या साइकिल का प्रयोग शुरू कर दीजिये ।
  5. कम से कम 15 दिन की आपकी दिनचर्या ऐसी होनी चाहिये ।
  6. सवेरे  एक से डेढ़ घंटे मार्निंग वॉक, सूर्यनमस्कार और प्राणायाम करना चाहिये । शाम को भी 30 मिनट की वाक और 30 मिनट हल्की कसरत और प्राणायाम । इसके लिए घर के आस पास किसी पार्क का माहौल अच्छा रहेगा. अगर पार्क नहीं है तब आप घर की छत से भी शुरुआत कर सकती हैं.
  7. सवेरे नाश्ते में अंकुरित अनाज, थोड़ा सा फल और रात में भिगोये हुये चार चार दाना  छुआरा, मुन्नका, अंजीर और बादाम ।  
  8. दोपहर के खाने में 2 से 4 चोकर मिले आटे की रोटियॉं और उबली हुयी हरी सब्जियॉं  सलाद के साथ ।
  9. बाजार के आयोडीन नमक की जगह सैंधा नमक का इस्तेमाल करें । अगर आप बीपी के पेशेंट है तब सैंधा नमक का इस्तेमाल हमेशा करें ।
  10. चाय में आप ग्रीन टी ले सकते है  या फिर गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद के साथ आधा नीबू का रस.
  11. दिन में एक बार मलाई निकला हुआ दूध ले सकते हैं । गाय का दूध हो तो और अच्छा है ।

आप देखेंगे की सिर्फ 15 दिन खान पान बदलने से और व्यायाम करने से आप का 2 से 5 किलो तक वजन  कम हो गया है  । आप शरीर हलका महसूस करेंगे और पहले से बेहतर और स्वस्थ महसूस करेंगे । आप चाहें तो यह प्रयोग एक महीने या फिर तीन महीने तक कर सकती हैं । वजन कम होने के बाद आप खान पान में हल्का परिवर्तन कर सकते हैं लेकिन आसन प्राणायाम, सूर्यनमस्कार और मार्निंग वॉक करना न छोड़ें । वजन हमेशा संतुलित बना रहेगा ।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.