जानिए भाप लेने से क्या-क्या फायदे होते हैं, आज से पहले नहीं जानते होंगे

814

आपने भी कभी किसी न किसी व्यक्ति को भाप लेते हुए अवश्य देखा होगा। इसे स्टीम इनहेलेशन भी कहा जाता है। इस प्रक्रिया में उबले हुए पानी के बर्तन के ऊपर कपड़े से अपने मुंह को ढकते हुए श्वास के माध्यम से भाप लिया जाता है। इस प्रक्रिया से एक नहीं बल्कि अनेक फायदे होते हैं। इस आर्टिकल में हम भाप लेने के उन्हीं फायदों का जिक्र करेंगे।

चेहरे की त्वचा के लिए

भाप लेने की प्रक्रिया त्वचा की अशुद्धियों और पल्यूशन को बाहर करने में बहुत हीं कारगर है। इससे एक तरह से चेहरे की त्वचा के रोम छिद्रों की सफाई भी होती है। इससे कील, मुहासे और पिंपल्स आदि समस्याएं दूर हो जाती हैं। केवल इतना ही नहीं बल्कि इससे चेहरे की त्वचा मॉइस्चराइज होती है और अतिरिक्त वसा दूर होता है। इस कारण उसमें नयापन भी आता है।

loading...

श्वसन संबंधी समस्याएं होंगी दूर

भाप लेने से श्वास संबंधित तमाम समस्याओं जैसे, सर्दी, खांसी, साइनस, दमा, एलर्जी एवं ब्रोंकाइटिस आदि में काफी राहत मिलती है। इतना ही नहीं, इससे कफ ढीला होकर बाहर आने लगता है और गले की खराश जैसी समस्याएं भी दूर हो जाती है। इसे अधिक प्रभावकारी बनाने हेतु इसमें लौंग, अदरक या लैमन ग्रास एसेंस अॉयल मिलाया जाता है।

माइग्रेन और सिरदर्द में है फायदेमंद

स्टीम इनहेलेशन से शरीर के तापमान में वृद्धि होती है इस कारण शरीर और मस्तिष्क में ब्लड सरकुलेशन भी तेज़ हो जाता है। इसके परिणाम स्वरुप मस्तिष्क कि शिथिल रक्त वाहिकाओं में भी रक्त का प्रवाह तीव्र होने लगता है। इन सब के प्रभाव से सिर दर्द एवं माइग्रेन जैसी समस्याओं में काफी राहत मिलती है। इसे खास प्रभावी बनाने के लिए उबले हुए पानी में लैवेंडर एसेंस ऑयल मिलाया जाता है।

ध्यान रखें ये बात

स्टीम इनहेलेशन या भाप लेना उन लोगों के लिए नुकसानदेह हो सकता है, जिन्हें उच्च रक्तचाप या कोई अन्य हार्ट डिजीज की शिकायत हो। साथ हीं कम उम्र के बच्चे या प्रेग्नेंट महिलाओं को यह नहीं करना चाहिए।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.