इस अदभुत मंदिर में प्रसाद चढ़ाकर नहीं बल्कि महिलाएं अंडे फेंकर मांगती है मन्नत !!

732

रोचक:- अक्सर ये तो आप सभी को पता है कि ये दुनिया बहुत बड़ी है। इसमें कई तरह के लोग निवास करते करते है तथा हर जाती में कई तरह के रीती रिवाजों के बारे में सुना होगा। ऐसे ही आज हम अजीब रिवाज के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आप नहीं जानते होंगे। आमतौर पर किसी पर अंडे फेंकना विरोध का या अपमानित करने का प्रतीक माना जाता है। लेकिन फिरोजाबाद में एक ऐसा गांव हैं जहां के एक मंदिर में महिलाएं चढ़ावे के तौर पर अंडे फेंकती हैं।

अंडे फेंकर मांगती है मन्नत:

 In this temple, instead of making prasad, women ask for a vow by throwing eggs !!

loading...

यहां हर साल बैसाख महीने में बिलहना गांव में तीन दिन का मेला लगता है। इस मेले में अपने बेटों की लंबी उम्र की दुआएं मांगती हैं। यह मंदिर है बाबा नागर सेन का जहां पर महिलाएं अंडे फेंकती हैं। ये परम्परा ‘कई पीढ़‍ियों से चली आ रही है। लोगों में ऐसा विश्‍वास है कि ऐसा करने से अंडे के अंदर जो जीव होता है उसकी उम्र भी उनके लड़के की उम्र में जुड़ जाती है। इसलिए आप जितने अंडे चढ़ाएंगे बेटे की उतनी ही उम्र बढ़ जाएगी।’

क्यों फेंके जाते है अंडे:

 In this temple, instead of making prasad, women ask for a vow by throwing eggs !!

इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा, ‘यहां तक कि जिन दंपतियों के बच्‍चे नहीं है वे भी मंदिर की दीवार पर अंडे फेंकते हैं। हर साल वैशाख के महीने में तीन दिनों के लिए बड़ी संख्‍या में महिलाएं आकर बाबा को अंडे चढ़ाती हैं।’ एक महिला इस बारे में ये कहती हैं कि ‘आप इसे अंधविश्‍वास कहें या कुछ और लेकिन मुझे केवल एक स्‍वस्‍थ बच्‍चा चाहिए। इसीलिए मैं मंदिर में अंडे चढ़ाना चाहती हूं।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Comments are closed.