अगर नया घर खरीद रहे हैं तो ये सावधानी बरतनी बेहद ही जरूरी

409

अभी तो कोरोना ने सभी को अपने घर की अहमियत समझा दी है। हर कोई चाहता है कि उसके पास एक बड़ा फ्लैट हो। लेकिन घर खरीदते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। नया फ्लैट खरीदते समय बरतें सावधानी

निर्माणाधीन भवन में फ्लैट बुक करते समय नमूना फ्लैटों पर भी विचार किया जाना चाहिए। इस तरह फ्लैट खरीदार को अंदाजा हो जाता है कि आपका फ्लैट वास्तव में कैसा हो सकता है। फ्लैट के स्थान और आयामों का अनुमान नमूना फ्लैट से लगाया जाता है। बिल्डर्स बैंकों और एनबीएफसी से उधार लेते हैं और प्रोजेक्ट मॉर्गेज बैंकों के पास होते हैं।

फ्लैट खरीदते समय, यदि आपसे किसी विशेष बैंक निर्माता के खाते में चेक का भुगतान करने के लिए कहा जाता है, तो सुनिश्चित करें कि परियोजना बैंक के पास गिरवी रखी गई है। इस तरह के प्रोजेक्ट में फ्लैट खरीदने के लिए आपको बैंक फ्री सर्टिफिकेट की जरूरत होती है। इस एनओसी में आपके फ्लैट का विवरण होना चाहिए।

उदा. आपके फ्लैट, भवन आदि की संख्या। यदि बिल्डर बैंक से लिए गए ऋण को चुका नहीं सकता है, तो बैंक परियोजना का कब्जा ले सकता है और फ्लैट खरीदार को फ्लैट खाली करने के लिए कह सकता है। एनओसी के कारण यदि खरीदार ने अपने फ्लैट की पूरी कीमत चुका दी है, तो बैंक उस फ्लैट पर कब्जा नहीं कर सकता है। फ्लैट खरीदते समय भी कई चीजें महत्वपूर्ण होती हैं।

कई लोग निर्माणाधीन प्रोजेक्ट में फ्लैट इसलिए खरीदते हैं क्योंकि रेडी-टू-मूव या रेडी-मेड फ्लैट की कीमत और निर्माणाधीन फ्लैट की कीमत में बड़ा अंतर होता है। इन फ्लैटों की कीमतें तैयार फ्लैटों की तुलना में काफी कम हैं। लेकिन आपको स्टांप ड्यूटी, संपत्ति के पंजीकरण, बिजली मीटर, गैस कनेक्शन, फर्निशिंग की लागत, फिटिंग की लागत के लिए खर्च करना होगा, अगर आप कुछ बदलाव करना चाहते हैं, तो आपको उसके लिए भी खर्च करना होगा। एक फ्लैट खरीदते समय, बिल्डर की विश्वसनीयता, उसके पिछले प्रोजेक्ट और उसके डिलीवरी रिकॉर्ड को देखना जरूरी है।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.