अगर पानी में भीगने से अंगुलियों सिकुड़ जाती है तो परेशान होने की जरुरत नहीं ये खबर तुरंत पढ़ें

1,365

आपने अपने जीवन में कई बार देखा होगा कि हाथों को बहुत देर तक पानी में रखने से या बहुत देर तक कपड़े धोने से अंगुलियों सिकुड़ जाती हैं। क्या कभी आपने सोचा है कि ऐसा क्यों होता है  हालांकि कुछ देर बाद अंगुलियां अपनी सामान्य स्थिति में वापस आ जाती हैं 

ITI, 8th, 10th युवाओं के लिये सुनहरा अवसर नवल शिप रिपेयर भर्तियाँ, जल्दी करें अभी देखें जानकारी 
ग्राहक डाक सेवा नौकरियां 2019: 10 वीं पास 3650 जीडीएस पदों के लिए करें ऑनलाइन
दसवीं पास लोगों के लिए इस विभाग में मिल रही है बम्पर रेलवे नौकरियां
loading...

पानी में भीगने से अंगुलियों का सिकुड़ना सामान्य घटना है। इसमें डरने और घबराने वाली बात नहीं है। ऐसा इंसान के शरीर की सुरक्षा के लिए होता है। आप सोच रहे होंगे कि अंगुलियों के सिकुड़ने से हमारे शरीर की सुरक्षा किस तरह होती है। तो हम आपको विस्तार से बता दे कि हमारा शरीर बहुत चालाक है। हमारा शरीर अपने आपको किसी भी परिस्थिति में आसानी से डाल लेता है। जब हम हाथ पानी में रखते हैं तो हाथों की पकड़ ढीली हो जाती है। इसलिए हाथों की अंगुली सिकुड़ जाती हैं। ताकि पानी में भी हम किसी चीज को मजबूती से पकड़ सकें।

पानी में हाथ रखने से अंगुलियों के सिकुड़ने का कारण हमारे शरीर का आॅटो मानस नर्वस सिस्टम होता है। और वैसोकंसट्रिक्शन के कारण अंगुलियों का मांस सिकुड़ जाता है। और पानी में हाथों की पकड़ मजबूत हो जाती है।इसलिए पानी में भीगने से अंगुलियों के सिकुड़ने से डरने की कोई बात नहीं है। यह हमारे अच्छे स्वास्थ्य का संकेत होता है। और इससे हमें संकेत मिलता है कि हमारा ऑटो मानस नर्वस सिस्टम सही ढंग से काम कर रहा है।

 

 

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.