प्रधानमंत्री मोदी को आखिर कैसे रखा जाता है सुरक्षित ,जानकार होश उड़ जायेंगे आपके

0 1,825

किसी भी शुभ अवसर पर आतंक के खतरे को भांपते हुए सुरक्षा बल सतर्क रहते हैं। एक सवाल जो बार-बार दिमाग में आता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कितने सुरक्षित हैं क्योंकि आतंक और अपराध के मामले बढ़ रहे हैं। 2002 के गुजरात दंगों के बाद से वह आतंकवादियों के निशाने पर है। मोदी की सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से दोगुनी है। जो भी कारण हो, एक बात निश्चित है कि भारत देश के दुश्मनों को करारा जवाब देने के लिए तैयार है। जब मोदी चलते हैं, तो कमांडो  उनकी सुरक्षा के लिए सुरक्षित घेरे में घेर लेते है ।

प्रधानमंत्री मोदी

पीएम मोदी के पास जो बीएमडब्ल्यू 7 कार है वह बुलेटप्रूफ है। दुश्मन को बेवकूफ बनाने के लिए उसके काफिले के साथ दो डमी कारें भी चलती है । उसकी सुरक्षा के लिए, एक हजार से अधिक कमांडो विभिन्न क्षेत्रों में तैनात हैं। पीएम के काफिले में दिल्ली पुलिस का सुरक्षाकर्मी सबसे पहले आता है, जो सायरन बजाकर चलता है। एसपीजी के पीछे दो वाहन होते हैं। इसके बाद दाएं और बाएं से दो वाहन चलते हैं और मोदी की कार केंद्र में रहती है। मोदी के काफिले की कारों की जांच एसपीजी द्वारा ठीक से की जाती है। काफिले में जैमर से सुसज्जित वाहन भी है।

How is Prime Minister Modi kept safe, will blow your senses मोदी

इस जैमर में दो एंटेना होते हैं, जो सड़क के दोनों ओर 100 मीटर दूर रखे गए विस्फोटक को निष्क्रिय कर सकते हैं। दिल्ली पुलिस के जिप्सियों के साथ, हर समय काफिले में एक एम्बुलेंस भी शामिल होती है। जब पीएम पैदल चलते हैं तो एनएसजी कमांडो उनके सामने चलते हैं। मोदी की सुरक्षा में लगे SPG कमांडो के पास आधुनिक तकनीक से लैस एक हथियार है, जो एक मिनट में 800 राउंड फायर कर सकता है।

पीएम के साथ आने वाले गार्ड विशेष चश्मे पहनते हैं ताकि वे बिना उनकी सूचना के हमलावरों पर नजर रख सकें। 500 एसपीजी कमांडो पीएम के 7 रेसकोर्स स्थित घर पर तैनात हैं। जब पीएम विदेश दौरे पर जाते हैं, तो वायु सेना उनकी सुरक्षा के लिए जिम्मेदार होती है। पीएम के एयरपोर्ट पहुंचने से पहले दो प्लेन तैयार रहते हैं। विमान के उड़ान भरने से पहले, पूरे क्षेत्र को नो-फ्लाइंग ज़ोन में बदल दिया जाता है।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply