महंगाई की मार RBI ने फिर बढ़ाई रेपो रेट, महंगा होगा कर्ज और बढ़ेगी

0 185

आरबीआई ने बुधवार को मौद्रिक नीति समिति के फैसलों की घोषणा की है। इस बार भी महंगाई पर काबू पाने के लिए ब्याज दरों में बढ़ोतरी का फैसला किया गया है. एमपीसी ने समीक्षा बैठक में रेपो रेट में बढ़ोतरी की है। इसके साथ ही मौद्रिक नीति समिति ने आज अपनी बैठक में चलनिधि समायोजन सुविधा के तहत नीतिगत रेपो दर को 35 आधार अंक या 0.35 प्रतिशत बढ़ाकर 6.25 प्रतिशत करने का फैसला किया है। आज की बढ़ोतरी पिछले सात महीनों में आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में पांचवीं बढ़ोतरी है। केंद्रीय बैंक ने मई में ब्याज दरों में 0.40 फीसदी, जून, अगस्त और सितंबर में 0.50-0.50-0.50 फीसदी की बढ़ोतरी की है

महंगाई पर काबू

इस संबंध में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में बढ़ोतरी की घोषणा की और कहा कि एमपीसी ने ब्याज दर में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है. अब रेपो रेट बढ़कर 6.25 फीसदी हो गया है. एमपीसी के 6 में से 5 सदस्य रेपो रेट बढ़ाने के पक्ष में थे। आरबीआई ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए अपने आर्थिक विकास के अनुमान को 7 प्रतिशत से घटाकर 6.8 प्रतिशत कर दिया है। अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में विकास दर 7.1 फीसदी रह सकती है। चालू वित्त वर्ष में महंगाई दर 6.7 फीसदी रहने का अनुमान है, जबकि अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में महंगाई दर 5 फीसदी के आसपास रहने का अनुमान है.

आपको बता दें कि रेपो रेट में बढ़ोतरी का सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा। रेपो रेट में बढ़ोतरी से होम लोन, ऑटो लोन और तमाम तरह के लोन और महंगे हो जाएंगे। जब भी आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी की जाती है तो इसका सीधा असर कर्ज की ब्याज दरों में बढ़ोतरी के रूप में देखने को मिलता है। इसके कई वाणिज्यिक बैंकों द्वारा भी ब्याज दर में वृद्धि की जा सकती है

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply