Health Tips: बरसात के मौसम में भी न खाएं ये चीजें, नहीं तो हो जाएगी बड़ी परेशानी

209

Health Tips: वैसे तो आपको बारिश का मौसम पसंद है, लेकिन यह उमस भरा मौसम कुछ बीमारियों का घर है। मच्छर जनित संक्रमण और बीमारियों के लिए यह अवधि विशेष रूप से अनुकूल है।

ऐसे में जानिए मानसून में क्या नहीं खाना चाहिए। दरअसल, मानसून एक सब्जी है (Vegetables ) और फलों में (Fruit) छोटे कीड़ों के बढ़ने का समय है। ये कीट प्रजनन करते हैं और धीरे-धीरे बढ़ते हैं। इसलिए इस मौसम में सभी नम और खुले खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।

1. फ्रीज ड्रिंक्स और फ्रोजन फूड्स

आजकल एक चलन है कि लोग जमी हुई चीजें बहुत खाते हैं। दरअसल गर्म और उमस भरे मौसम में भी इसका सेवन करना अच्छा लगता है। इसके अलावा, हालांकि जमे हुए भोजन तैयार करना आसान है, वे खाने में भी स्वादिष्ट होते हैं। लेकिन इन दोनों की वजह से बारिश में पेट में इंफेक्शन हो सकता है। ये दोनों आपके पाचन तंत्र को कमजोर कर सकते हैं और आपके शरीर में खनिजों की कमी कर सकते हैं। इसलिए इस मौसम में ठंडे पेय से बचें और नींबू पानी और जलजीरा जैसे हाइड्रेटिंग ड्रिंक्स का सेवन करें।

2. हरी पत्तेदार सब्जियां और बीज

इन दिनों में नमी बैक्टीरिया और कवक के लिए अनुकूल होती है, खासकर हरी पत्तेदार सब्जियों पर, जिससे पेट में संक्रमण हो सकता है। इसलिए छिलके वाली सब्जियां जैसे पालक, मेथी, पत्ता गोभी, फूलगोभी खाने से बचें, क्योंकि ये बैक्टीरिया पनप सकते हैं। इसकी जगह करी, घी, तोरी, टिंडा जैसी सब्जियां खानी चाहिए।

3. बाहर का खाना और जूस पीने से बचें

रेस्तरां के साथ-साथ स्ट्रीट फूड स्टॉल पर खाना खाने से बचें, क्योंकि मानसून का तापमान बैक्टीरिया और कवक के विकास के लिए आदर्श होता है और भोजन और जलजनित संक्रमण के जोखिम को बढ़ाता है। साथ ही बाहर से जूस पीने से बचें, क्योंकि इससे टाइफाइड, उल्टी और दस्त हो सकते हैं। इसलिए इस जूस का सेवन करने से बचें।

4. सलाद खाने से बचें

सलाद में कच्चे माल का इस्तेमाल किया जाता है। कच्चा भोजन खाने से बैक्टीरिया और सूक्ष्म जीवों के तत्काल प्रवेश की अनुमति मिलती है जो अंततः बैक्टीरिया और वायरल संक्रमण का कारण बनते हैं। इसलिए इस दौरान सलाद खाने से बचें। ऐसे में सलाद की जगह उबली या पकी हुई सब्जियां खाएं, क्योंकि सब्जियां पकाने से हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में मदद मिलती है।

5. दही खाने और मट्ठा पीने से बचें

मानसून के दौरान दही खाना शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है, क्योंकि इसका शीतलन प्रभाव होता है। यह साइनसाइटिस को बढ़ावा देता है। दही खाने और इसके साथ मट्ठा पीने से पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं और आपका पेट खराब हो सकता है। इसलिए बरसात के दिनों में इन सभी चीजों को खाने से बचें।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.