प्रेमिका थी शादीशुदा- परिवार वालों ने बिस्तर पर पकड़ा प्रेमी और फिर आपत्तिजनक हालत में…

Advertisement

3,021

अपराध: मध्य प्रदेश में चम्बलांचल के भिंड जिलान्तर्गत गोरमी थाना क्षेत्र के सिलोली गांव में एक युवक एवं उसकी शादीशुदा प्रेमिका की ग्रामीणों ने जमकर पिटाई की, बाद में पुलिस के हवाले कर दिया।

जानकारी के मुताबिक पकड़े गए युवक के अपने ही गांव की युवती से सम्बंध थे, लेकिन वे आपस में विवाह न कर लके। युवती का विवाह सिलोली गांव के रहने वाले अन्य युवक से हो गया। इसके वाबजूद उन दोनों का अवैध प्रेम संबंध जारी रहा। युवक अक्सर अपनी प्रेमिका से मिलने भाई बनकर उसकी ससुराल आने लगा।

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

अगर आप बेरोजगार हैं तो यहां पर निकली है इन पदों पर भर्तियां

दसवीं पास लोगों के लिए इस विभाग में मिल रही है बम्पर रेलवे नौकरियां

loading...

ईस्ट कोस्ट रेलवे में बम्पर भर्ती 2019 : 10वीं, 12वीं और ITI वाले आवेदन करने में देर ना करें -अभी यहाँ देखें 

बार बार अकारण युवक के आने से युवती के ससुरालीजनों को शक हो गया। इसके चलते युवक गत दिवस पुन: सिलोली जा पहुंचा। देर रात मौका पाकर वह प्रेमिका के बिस्तर में भी जा पहुंचा। इधर घुसा महिला के परिजन उस पर नजर रखे थे, थोड़ी ही देर में वे उस कमरे में जा पहुंचे। दोनों को पति – पत्नी की तरह पकड़ लिया।

दोनों को उसी आपत्तिजनक हालत में पीटते हुए घर के बाहर ले गए, फिर सरेआम युवक को रस्सियों के सहारे पेड़ से बांधकर पीटा गया तो महिला को जमीन पर पटक कर लात घूंसों से धुना गया।

बताया जाता है कि, कुछ महीनों से दोनों के इस प्रेम सम्बंध पर गांव वालों कानाफूसी चल रही थी, इससे महिला का पति व अन्य ससुरालीजनों की अपनी बदनामी होती लगी। इस कारण वे दोनों को उसी हालत में मौत के घाट उतारने पर उतारू थे।

लेकिन किसी तरह ग्रामीणों ने उनको समझाया और बीच-बचाव कर दोनों को बचाया। बाद में पुलिस को सूचना देकर दोनों को गोरमी पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है।

युवक आनंदपुर पावई का रहने वाला बताया जा रहा है। युवक और महिला से परिजनों द्वारा की गई मारपीट का वीडियो भी वायरल होने की खबर है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.