सावन में नई नवेली दूल्हन से करा लें कोई भी एक उपाय, जीवनभर धन पर करेंगे राज

701

ये बात तो आप सभी जानते ही होंगे कि हिंदू धर्म में लड़कियों को माता लक्ष्मी का रूप माना जाता है, बेटियां सौभाग्य का प्रतिक और लक्ष्मी का स्वरूप मानी जाती है, इसलिए बेटियों का भाग्य ही किसी भी घर को सौभाग्यशाली बना देता है। यह भी सच है कि सावन माह का पावन समय चल रहा है और इस सावन माह में अगर कोई भी उपाय किया जाए तो वो सफल भी होता है।

Get any solution from the new bride groom in Savan, rule over money for lifeनियम है कि बेटी शादी के बाद अपना पहला सावन मनाने मायके आती है पर क्या आपको पता है कि इस दौरान अगर आप अपनी बेटी से एक छोटा सा उपाय करा लेते हैं तो आपके जीवन में धन-धान्य व सुख समृद्धि की अपार वर्षा होगी। जी हां माना जाता है कि अगर बेटी की शादी के बाद उसके माता पिता के घर के हालात बिगड़ने लगे तो जब वह सावन में पहली बार बेटी मायके आती है तो उसके हाथों से एक उपाय करा लेने चाहिए ऐसा करने से घर की परेशानियां स्वतः ही खत्म होने लगेगी और परिवार में खुशियों का वातावरण दोबारा बनने लगेगा।

तो आइए जानते हैं कि आखिर कौन-से हैं वो उपाय जो नवविवाहित बेटी से कराने चाहिए
1. सबसे पहला उपाय तो यह है कि घर की बेटी जब शादी के बाद पहला सावन बिताने मायके आए तो पिता या भाई बेटी के हाथों से एक तुलसी का पौधा घर के आंगन में लगवा लें और जब तक बेटी यहां रहे तब तक उससे हर रोज शाम को तुलसी के नीचे उससे दीपक जरूर जलाने को कहें। ऐसा करने से घर में सदैव सुख-शांति और समृद्धि बनी रहेगी।

  1. दूसरा उपाय ये है कि आप सावन के किसी भी मंगलवार के दिन अपनी नवविवाहित बेटी के हाथों से गुड़ लेकर उसी उसे मिट्टी के बर्तन में रखकर घर के आंगन या कहीं एकांत में मिट्टी में दबा दीजिए। ऐसा करने से मकान और संपत्ति संबंधित जो भी इच्छाएं होंगी वो पूरी हो जाएंगी।
Image- Jodi Cracker
  1. तीसरा उपाय ये है कि सावन में किसी भी बुधवार को बेटी के हाथों एक सुपारी लेकर सुपारी में रक्षा सूत्र (कलावा) बांध कर पीले कपड़े में लपेटकर घर के किसी कोने में या मंदिर में लटका दें। ऐसा करने से आपके उपर जो भी कर्ज हैं उससे मुक्ति मिल जाएगी।

  2. इसके अलावा चौथा व आखिर उपाय है कि सावन के किसी भी सोमवार की सुबह नवविवाहित बेटी को संपूर्ण श्रृंगार कराके एक आसन पर बैठा दें और माता पिता भी उसके सामने एक गुलाबी कपड़े में थोड़ा सा अक्षत (चावल) और एक चांदी का सिक्का लेकर बैठ जायें।

ऐसा करने से के बाद अब गुलाबी कपड़े में उस अक्षत और सिक्के को बेटी के हाथों से बांधवा कर अपने धन रखने के स्थान पर रखें। इसके बाद माता पिता बेटी के चरण स्पर्श करते हुए लक्ष्मी रूप मानकर सभी समस्याओं के निवारण की कामना करें। आप देखेंगे कि कुछ ही समय बाद आपकी सभी समस्याओं का अंत हो जाएगा।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

loading...

Comments are closed.