कोरोना वायरस से उबरने वाले लोगों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय कहा योग और चवनप्राश को दिनचर्या में करें शामिल

416

Post COVID-19 Management Protocol: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का मानना ​​है कि जिन लोगों ने कोरोना महामारी को हराया है, उन्हें अभी भी अपनी देखभाल करने की आवश्यकता है। इसलिए, सरकार द्वारा पोस्ट COVID-19 प्रबंधन प्रोटोकॉल जारी किया गया है। इसका मतलब है कि कोरोना वायरस से उबरने के बाद खुद की देखभाल कैसे करें। इन सुझावों के अनुसार, रोगी को योग और प्राणायाम करना चाहिए। चवनप्राश, काढ़े सहित अन्य पौष्टिक वस्तुओं की निरंतर खपत भी होनी चाहिए। इससे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी और कोरोना जैसी कई बीमारियां शरीर पर हमला नहीं कर सकती हैं।

loading...

सभी टिप्स पढ़ें

कोरोना महामारी से उबरने के बाद भी, मास्क पहनना, स्वच्छता बनाए रखना और शारीरिक दूरी का पालन करने जैसी चीजों का ध्यान रखना जरूरी है। बुजुर्ग और छोटे बच्चों को सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचना चाहिए। यदि आवश्यक हो तो अपने साथ सैनिटाइजर ले जाएं। गर्म पानी पीते रहें। उन्मुक्ति को बढ़ावा देने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा अनुमोदित दवाएं लेते रहें।

– रोजाना योग और प्राणायाम करें। योग जारी रखें, विशेष रूप से फेफड़ों को मजबूत करना। जब भी संभव हो सुबह की सैर करें। अपने आहार पर ध्यान दें। फास्ट फूड और तले हुए खाद्य पदार्थों के बजाय पौष्टिक आहार लें। रात को खाने और सोने का कार्यक्रम बनाएं और उसका पालन करें।

– गले में खराश होने पर नमक के पानी से गरारे करें। यदि सर्दी खांसी बनी रहती है, बुखार आता है, तो एक डॉक्टर को देखें। वैसे, कोरोना से उबरने के बाद नियमित जांच करवाएं। उसी डॉक्टर या अस्पताल को देखें जहां कोरोना का इलाज किया गया है।

– सोने जाने से पहले हर रात हल्दी वाला दूध पिएं। रात में एक चम्मच चवनप्राश भी उपयोगी है। सुबह चवनप्राश को गर्म पानी के साथ लेने के कई फायदे हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.