शिवलिंग की पूजा में अगर ये 3 चीजो का कर लिया इस्तमाल तो कभी पूरी नहीं होगी पूजा

666

सप्ताह के सातों दिन किसी न किसी देवी देवताओं के लिए समर्पित होता है दिन विशेष पर भगवान की पूजा आराधना की जाती है सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा होती है शिवपुराण के अनुसार इस दिन भगवान शिव की आराधना करने से धन संबंधी और कुंडली दोष के निवारण होता है शिवजी को खुश करने के लिए भक्त शिवलिंग पर कई चीजें अर्पित करते हैं. लेकिन कई बार भूलकर ऐसी चीजें शिवलिंग पर चढ़ाने लगते है. जिसे शास्त्रों में वर्जित माना जाता है भूलकर भी इन चीजों से नहीं करना चाहिए शिवलिंग की पूजा आइए जानते हैं।

DSSSB में निकली फायरमेन पदों पर 10वीं  पास लोगो के लिए दिल्ली में नौकरी – Apply Online for 706 Posts

इंडियन एयरफोर्स में हो रही है 12TH पास युवाओं की भर्ती योग्य उम्मीदवार करे आवेदन 

SAIL  बिहार में अभी हो रही है 10वीं पास लोगो के लिए भर्तियाँ – सैलरी भी आपके मुताबिक- आवेदन करें

दसवीं पास वालों के लिए CISF कांस्टेबल और ट्रेडमैन में आई बम्पर भर्ती – देखें पूरी जानकारी

loading...

1.तुलसीदल शिवलिंग पर न चढ़ाएं

तुलसी को हिन्दू धर्म में विशेष महत्व होता है और सभी शुभ कार्यों में इसका प्रयोग होता है लेकिन तुलसी को भगवान शिव पर चढ़ाना मना है भूलवश लोग भोलेनाथ की पूजा में तुलसी का इस्तेमाल करते हैं जिस वजह से उनकी पूजा पूर्ण नहीं होती।

2.शिव उपासना में न करें शंख का इस्तेमाल

शिव उपासना में शंख का इस्तेमाल वर्जित माना जाता है दरअसल भगवान शिव ने शंखचूड़ नाम के असुर का वध किया था जो भगवान विष्णु का भक्त था शंख को उसी असुर का प्रतीक माना जाता है इसलिए शिवजी की पूजा में कभी भी शंख नहीं बजाना चाहिए।

3.कुमकुम या सिंदूर है वर्जित

कुमकुम सौभाग्य का प्रतीक होता है जबकि भगवान शिव वैरागी हैं इसलिए शिव जी को कुमकुम नहीं चढ़ना चाहिए। साथ ही शिवलिंग पर हल्दी भी न चढ़ाएं।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Comments are closed.