भारत में कर्जदारों की सबसे बड़ी चिंता EMI है, 3 में से 2 को अपना CIBIL स्कोर की नहीं है जानकारी, रिपोर्ट

176

देश के सभी कर्जदारों को अपने CIBIL स्कोर की जानकारी नहीं है। अंतरराष्ट्रीय उपभोक्ता वित्त प्रदाता होम क्रेडिट की भारतीय शाखा ने उधारकर्ताओं के बीच वित्तीय साक्षरता का पता लगाने के लिए एक सर्वेक्षण किया है। उन्होंने सात शहरों के एक हजार लोगों से बात की। सर्वेक्षण में पाया गया कि 68 प्रतिशत कर्जदारों को अपने CIBIL स्कोर की जानकारी नहीं है। हालाँकि, 52 प्रतिशत लोग CIBIL स्कोर और इसके महत्व से अवगत हैं।

EMI चिंता करता है लेकिन ब्याज की रकम का पता ही नहीं

सर्वेक्षण में पाया गया कि 76 प्रतिशत लेनदारों को ऋण पर ब्याज की राशि का पता नहीं था। वह केवल EMI की मात्रा जानने में रुचि रखते थे। दिल्ली में केवल 10 प्रतिशत, जयपुर में 19 प्रतिशत और मुंबई में 24 प्रतिशत ऋण पर ब्याज की राशि का पता था। 43 प्रतिशत ने कहा कि उन्हें इस बात की कम जानकारी है कि ऋण पर ब्याज की गणना कैसे की जाती है। किसी भी देश की आर्थिक प्रगति के लिए वित्तीय साक्षरता महत्वपूर्ण है। इस अध्ययन का उद्देश्य यह पता लगाना है कि हमारे ग्राहक अपने वित्तीय प्रबंधन के बारे में कितना समझते हैं। अधिकांश लोग अपनी वित्तीय प्रणाली की बेहतर समझ विकसित करना चाहते हैं। इससे कंपनी को एक सार्थक वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम विकसित करने में मदद मिलेगी। लोग ऋण लेने के लिए बजट, अच्छे ऋण बनाम बुरे ऋण जैसी चीजों की समझ विकसित करने में सक्षम होंगे।

म्यूचुअल फंड की जानकारी

loading...

सर्वेक्षण में पाया गया कि 50 प्रतिशत से अधिक लोग म्यूचुअल फंड के बारे में जानते हैं। कोलकाता में कम से कम 66 फीसदी, दिल्ली में 61 फीसदी, मुंबई में 53 फीसदी, पटना में 50 फीसदी, भोपाल में 43 फीसदी, हैदराबाद में 41 फीसदी और जयपुर में कम से कम 37 फीसदी लोगों को इसकी जानकारी है। 95 प्रतिशत उधारकर्ताओं ने कहा कि वे बैंक की पासबुक से संबंधित जानकारी को समझते हैं। 98% लोग भोपाल में हैं। यह जयपुर में 97% और दिल्ली में 96% लोगों को पता है। बार-बार बैंक शाखा में 87% बचत खाते और 80% चालू खाते आते हैं।

CIBIL स्कोर क्या है

यह तीन अंकों की संख्या है, जिस पर रिपोर्ट आधारित है। रिपोर्ट में क्रेडिट, रोजगार और आय जैसी जानकारी शामिल है। यदि आपको बैंक से ऋण की आवश्यकता है, तो यह आपके CIBIL स्कोर पर निर्भर करता है। स्कोर 300 से 900 तक होता है। जितना ज्यादा स्कोर होगा, लोन मिलने की संभावना उतनी ही ज्यादा होगी।

CIBIL स्कोर कैसे देखें

सिबिल की वेबसाइट www.cibil.com पर जाएं। अपना CIBIL स्कोर प्राप्त करने के लिए क्लिक करें। यह आपको सदस्यता वाले पृष्ठ पर ले जाएगा। वहां आपको ईमेल आईडी, नाम आदि दर्ज करना होगा। पुष्टि के लिए मोबाइल पर ओटीपी आएगा, जिसे दर्ज करना होगा। एक नई विंडो तब ग्राहक को अपना पंजीकरण दिखाएगा। क्रेडिट स्कोर जानने के लिए डैशबोर्ड पर क्लिक करें। वहाँ से आप इसे MyScore.sibil.com पर ले जा सकते हैं जहाँ आप अपना CIBIL स्कोर देख सकते हैं।

पटना के उधारकर्ता हैं कम से जागरूक

हैरानी की बात यह है कि CIBIL स्कोर नहीं जानने वाले 68 फीसदी लेनदारों ने कर्ज लिया है। पटना में केवल 22 प्रतिशत लेनदारों को उनके CIBIL स्कोर के बारे में पता है, जबकि कोलकाता और मुंबई में 25 प्रतिशत लोग इसके बारे में जानते हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.