इन कारणों की वजह से शनिदेव हो जायेंगे आप से क्रोधित जानें अभी और सावधान रहे

398

शनिवार को शनिदेव का दिन माना जाता है। इस दिन भगवान शनि की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि शनि देव को प्रसन्न करने के लिए कई उपाय किए जा सकते हैं। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि शनि देव क्यों क्रोधित होते हैं और उन्हें खुश रखने के लिए क्या किया जा सकता है। कहा जाता है कि शनि के 10 नाम सारी चीजें बिगाड़ देते हैं। तो आइए जानते हैं शनिदेव के 10 नाम।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

loading...

शनिदेव के 10 नाम

  • कोणस्थ, पिंगल, बभ्रु, कृष्ण, रौद्रान्तक, अंतक, शौरी, शनैश्चर, यम, पिप्पलाद।

भगवान शनि आपसे क्यों नाराज हैं- –

ऐसा कहा जाता है कि जो लोग रात में देर से सोते हैं और सुबह देर से उठते हैं, शनि देव उनसे नाराज हो जाते हैं।

  • ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जो किसी भी मजदूर या जरूरतमंद को सताने में आगे रहते हैं।

  • ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जो अपने माता-पिता का सम्मान नहीं करते हैं। – ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जो किसी का पैसा हड़पने में आगे रहते हैं।

इन कारणों की वजह से शनिदेव हो जायेंगे आप से क्रोधित जानें अभी और सावधान रहे

  • कहा जाता है कि अमावस्या के दिन, शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जो मांस और शराब का सेवन करते हैं। – ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हैं जिनके घर के पश्चिम में पानी की टंकी बनी है।

  • ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जिनका मुख्य द्वार पश्चिम दिशा में है और चारों ओर गंदगी रहती है।

  • ऐसा कहा जाता है कि शनि देव उन लोगों से नाराज हो जाते हैं जो असहाय, कमजोर, विकलांग लोगों का मजाक उड़ाते हैं।

  • कहा जाता है कि जो लोग नौकर / नौकरानी को समय नहीं देते हैं, शनि देव उनसे नाराज हो जाते हैं।

जानिए शनि देव को प्रसन्न करने के उपाय-

इसके लिए शनिवार को सूर्योदय से पहले या सूर्यास्त के बाद शनि की पूजा करें और काले या नीले आसन पर बैठकर तिल के तेल का दीपक जलाएं। उसके बाद 27 दिनों तक लगातार सात बार सुबह और शाम शनि स्तोत्र का पाठ करें। अपनी समस्या के लिए शनिदेव से प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपकी समस्या का निदान हो जाएगा।

यह ध्यान में रखें –

शनिवार को स्नान करने के बाद हमेशा पूजा में साफ कपड़े पहनें। ध्यान रखें, हमेशा शनि देव की पूजा में सरसों के तेल का उपयोग करें। पीपल के पेड़ के नीचे शनि की पूजा करें। यह भी पढ़ें-

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.