क्या आप जानते है लाल किला का असली नाम ? जानें अभी , पढ़ें और भी मज़ेदार बातें इसके बारे में

439

हर साल 15 अगस्त को भारत के स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। 15 अगस्त 1947 को भारत को ब्रिटिश दासता से मुक्त किया गया था। हर साल 15 अगस्त को देश भर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और इस दिन देश के पीएम लाल किले से तिरंगा फहराते हैं। भारत की स्वतंत्रता के बाद लाल किले पर तिरंगा फहराया गया था। भारतीय इतिहास में लाल किले का भी महत्वपूर्ण स्थान है, तो चलिए आज लाल किले से जुड़ी कुछ खास बातों के बारे में जानते हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

loading...

Do you know the real name of Red Fort? Learn now, read even more interesting things लाल किला

लाल किले से जुड़ी कुछ खास बातें

लाल किले से पहला तिरंगा आजादी के अगले दिन यानी 16 अगस्त 1947 को फहराया गया था। तिरंगे को सलामी देने की परंपरा 15 अगस्त से शुरू हुई थी

  • इसका का नाम किला-ए-मुबारक।

  • भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने लाल किले से कुल 16 बार तिरंगा फहराया है।

  • पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने लाल किले से 6 बार तिरंगा फहराया और वह ऐसा करने वाले पहले नॉन कांग्रेसी पीएम थे।

Do you know the real name of Red Fort? Learn now, read even more interesting things लाल किला

  • आजादी के बाद पहली बार लाल किले से तिरंगा नहीं फहराया गया। बल्कि, आजादी के बाद पहली बार काउंसिल हाउस पर तिरंगा फहराया गया, जिसे अब संसद भवन कहा जाता है।

-Former PM पंडित जवाहरलाल नेहरू ने स्वतंत्रता दिवस पर सबसे अधिक बार तिरंगा फहराने का काम किया है। 15 अगस्त को पंडित जवाहरलाल नेहरू ने सबसे अधिक 17 बार तिरंगा फहराया।

-भारत की आजादी से ठीक एक दिन पहले 14 अगस्त 1947 को वायसराय के घर से यूएनियन जैक को उतार दिया गया था। वाइसराय हाउस को आज राष्ट्रपति भवन के रूप में जाना जाता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.