पश्चिम चंपारण जिला के ऐतिहासिक, धार्मिक एवं पर्यटकीय स्थलों का समग्र रूप से करें विकास:डीएम

97

बगहा,7 दिसम्बर जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि जिला के विभिन्न ऐतिहासिक, धार्मिक एवं पर्यटकीय स्थलों को युद्धस्तर पर विकास किया जाना है ताकि अधिक से अधिक पर्यटकों का जिले में आगमन हो, इससे एक ओर जहां स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा वहीं दूसरी ओर जिला की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करने में सहायता मिलेगी।उन्होंने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिला में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं, जिसके लिए पर्यटकीय स्थलों को विकास कराने के लिए समन्वित प्रयास लगातार किया जा रहा है। तीव्र गति से क्रियान्वित विकास कराने के लिए अधिकारियों को पूरी संजीदगी के साथ कार्य करना पड़ेगा। जिलाधिकारी अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित महत्वपूर्ण समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को निदेशित कर रहे थे।

पर्यटन शाखा के प्रभारी पदाधिकारी ने बताया कि जिला के हजारीमल धर्मशाला, पूजहां पटजिरवा माई स्थान, उदयपुर जंगल, सरेया मन, वृन्दावन आश्रम, सनकहिया माई स्थान, खड्डा माई स्थान, दुर्गाबाग, नंदनगढ़, राज ड्योढ़ी, अमवा मन, सोफा मंदिर, बलवल, सुभद्रा माई स्थान, सोमेश्वर पहाड़, टाईगर रिजर्व, रमपुरवा, भितिहरवा गांधी आश्रम, काली बाग मंदिर, सागर पोखरा आदि का समग्र रूप से विकास किया जाना है, जिसके लिए कार्रवाई प्रारंभ कर दी गयी है। मौके पर अपर समाहर्ता, नंदकिशोर साह, प्रभारी पदाधिकारी, जिला सामान्य शाखा, प्रभारी पदाधिकारी, जिला पर्यटन शाखा, जिला खनिज पदाधिकारी, कनीय अभियंता, पर्यटन विभाग, पटना आदि उपस्थित रहे तथा सभी एसडीओ, अंचलाधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.