अगस्त से कोरोना की तीसरी लहर, सितंबर में बिगड़ेंगे हालात

328

हालांकि कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या घट रही है, लेकिन देश में तीसरी लहर आना लाजमी है. भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने एक रिपोर्ट में कहा है कि अगले महीने अगस्त के दूसरे पखवाड़े से कोरोना की तीसरी लहर शुरू होगी और सितंबर में स्थिति और खराब होगी। स्टेट बैंक की रिपोर्ट ने एक बार फिर पूरे देश में चिंता बढ़ा दी है।

हालांकि विशेषज्ञ कोरोना की तीसरी लहर को लेकर बंटे हुए हैं, लेकिन कई लोगों ने संकेत दिया है कि अनलॉक के बाद लोग जिस लापरवाही से अपने घरों से निकल रहे हैं, उसे देखते हुए तीसरी लहर अपरिहार्य है। यूरोप में दूसरी लहर के बाद कोरोना की तीसरी लहर आई। इसलिए भारत में तीसरी लहर की संभावना विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) पहले ही व्यक्त कर चुका है। स्टेट बैंक ने पहले कहा था कि सात मई से कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा होगा। तदनुसार, दूसरी लहर अप्रैल में शुरू हुई और मई में चरम पर रही। ऐसे में एसबीआई की तीसरी लहर की भविष्यवाणी ने आशंकाएं बढ़ा दी हैं।

loading...

24 घंटे में 39,796 नए मरीज; 723 मौतें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में देश भर में 39,796 नए मामले सामने आए और 723 लोगों की मौत हुई। यह पिछले 88 दिनों में सबसे कम मौत का आंकड़ा है।

अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 4 लाख 2 हजार 728 हो गई है। मरीज के ठीक होने की दर 97.11 प्रतिशत हो गई है।

तीसरी लहर 98 दिनों तक चलेगी

अगस्त के दूसरे पखवाड़े से मरीजों की संख्या बढ़ने लगेगी। तीसरी लहर सितंबर में अपने चरम पर पहुंच जाएगी। स्टेट बैंक की एक रिपोर्ट के अनुसार, तीसरी लहर का प्रभाव 98 दिनों तक रहेगा।
दूसरी लहर की तुलना में तीसरी लहर में संक्रमण तेजी से होगा। दोगुना या 1.7 प्रतिशत से अधिक होगा। लेकिन टीकाकरण से लोगों को फायदा होगा। अगर संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती है तो भी मरने वालों की संख्या दूसरी लहर से कम होगी।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.