Commonwealth Games 2022: पैरा पावरलिफ्टिंग में हरियाणवी लड़के सुधीर लाठ ने जीता गोल्ड

0 58

Commonwealth Games 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का नाम एक बार फिर से चमका है। हरियाणा के बेटे सुधीर लठ ने पैरा पावरलिफ्टिंग में गोल्ड मेडल जीता है। बता दें कि सुधीर 7 बार नेशनल गोल्ड मेडलिस्ट रह चुके हैं। लठ की इस उपलब्धि पर परिवार समेत गांव के सभी खेल प्रेमियों में खुशी की लहर है. सोनीपत के लाठ गांव में एक किसान परिवार में जन्मे सुधीर लठ बचपन से ही मेधावी थे।

Commonwealth Games 2022:  एबीपी न्यूज से बात करते हुए सुधीर के परिवार ने बताया कि पांच साल की उम्र में पैर की समस्या के कारण वह विकलांग हो गए थे। इसके बावजूद उन्होंने कभी हार नहीं मानी।सुधीर लठ चार भाइयों में से एक हैं। उनके पिता सीआईएसएफ जवान राजबीर सिंह का चार साल पहले निधन हो गया था। अब चार भाइयों के परिवार में एक माँ और चाचा हैं। सुधीर ने हमेशा देसी खाना पसंद किया है। वह रोजाना पांच किलो दूध के साथ ही छोले और बादाम भी खाते हैं।

Commonwealth Games 2022:  उन्होंने अपने शरीर को फिट रखने के लिए साल 2013 में पावर लिफ्टिंग शुरू की थी। उसके बाद बेहतर अभ्यास कर इसे जीवन का हिस्सा बना लिया। पैरा पावरलिफ्टिंग की शुरुआत खिलाड़ी वीरेंद्र धनखड़ से प्रेरित होकर की गई थी। सिर्फ दो साल की मेहनत से उन्होंने नेशनल में जगह बनाई और नेशनल में गोल्ड जीतकर राज्य का नाम रोशन किया। वहां से उनका लगातार सात साल तक नेशनल में गोल्ड मेडल जीतने का सफर जारी है। इसके साथ ही उन्होंने साल 2021 और 2022 में स्ट्रॉन्ग मैन ऑफ इंडिया का खिताब जीतकर देशवासियों को गौरवान्वित किया है। सुधीर ने इंग्लैंड के बर्मिंघम में राष्ट्रमंडल खेलों में हैवीवेट वर्ग में देश के लिए स्वर्ण पदक जीता।

सुधीर ने अब तक लगातार सात साल राष्ट्रीय स्वर्ण पदक जीते हैं। उन्होंने दो बार स्ट्रॉन्ग मैन ऑफ इंडिया का खिताब अपने नाम किया है। 2019 में पैरा एशियाई खेलों में कांस्य पदक और 2021 में दक्षिण कोरिया में एशिया-ओशिनिया ओपन पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता। वही गोल्ड मेडल जीतने के बाद सुधीर के परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं है.

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply