नहीं आती है अच्छी नींद? तो जानिए ये घरेलू आयुर्वेदिक समाधान

384

इस बीमारी के कई कारण हो सकते हैं। हालांकि, मानसिक अशांति के परिणामस्वरुप मुख्यतः अनिद्रा की समस्या होती है। किसी भी प्रकार की शारीरिक व्यथा जैसे शरीर में दर्द, अतिशय तीव्र या असहज मौसम की स्थिति या पुरानी बीमारियॉ भी अनिद्रा का कारण बन सकती हैं। अतिश्रम और अति चिंता से भी नींद की कमी हो सकती है। जिन लोगों को अनुपयुक्त पाचन, कब्ज और खाने की अनियमित आदतों का पूर्व इतिहास है, उन्हें अनिद्रा से पीड़ित होने की अधिक संभावना है। अनिद्रा के कोई भी कारण हो सकते हैं।

यह एक विडम्बना है की आज की आधुनिक जीवन शैली में लोग निद्रा को आव्यशकता नहीं बल्कि एक सुख के रूप में देखते हैं। राष्ट्रीय स्लीप फाउंडेशन के अनुसार, 30% से 40% लोगों का कहना है कि उन्हें कभी-कभी अनिद्रा की समस्या होती है और 10% से 15% लोग कहते हैं कि उन्हें हर समय निंद्रा न आने की परेशानी होती है।

आयुर्वेद में, नींद न आने को ‘अनिद्रा’ कहा जाता है। आयुर्वेदिक उपचार व सही जीवन शैली अपनाकर अनिद्रा का उपचार करना संभव है। नींद अच्छी व गहरी सोने के लिए कुछ आसान घरेलु उपाय है जो आप अपना सकते हैं।

आपको अच्छी नींद लाने में मददगार यहां कुछ प्राकृतिक सुझाव दिए गए हैं।

रात को सोने से पहले गर्म दूध पीना नींद आने का आसान उपाय है। बादाम का दूध कैल्शियम का एक उत्कृष्ट स्रोत है, जिससे मस्तिष्क को मेलाटोनिन (वह हार्मोन जो निद्रावस्था /जागृतवस्था चक्र को नियंत्रित करने में मदद करता है) के निर्माण में मदद मिलती है।

कोल्ड प्रेस्सेड कार्बनिक तिल के तेल को अपने पैरों के तलवों पर लगा कर रगड़े , इससे पहले कि आप आराम से सुखपूर्वक चादर ओड़ कर आराम करने जाएं (सूती मोज़े पैरों पर चढ़ा लें, ताकि आपकी चादर पर तेल न लगे)।

loading...

3 ग्राम ताजा पोदीने के पत्ते या 1.5 ग्राम पोदीने के सूखे पाउडर को 1 कप पानी में 15-20 मिनट के लिए उबालें।

रात को सोते समय 1 चम्मच शहद के साथ गुनगुना लें। एक कटे हुए केले पर 1 चम्मच जीरा छिड़कें। रात को नियमित रूप से खाएं।

श्वसन पर आधारित व्यायाम, योग और ध्यान आपके मन को विश्राम देने और अच्छी नींद लाने का एक बेहतरीन तरीका है!

जीवनशैली सम्बंधी सिफारिशें:

1 , रात में देर तक टीवी देखने या कंप्यूटर पर काम करने से बचें।

2 संध्याकाल के बाद कॉफी, चाय या अन्य वातित पेय का पान करने से बचें।

3 आयुर्वेदिक मालिश और शिरोधारा जैसी चिकित्सा मन को विश्राम देने में मदद कर सकते हैं।

अपने शरीर को थकाने और ऊर्जा को दिशा देने के लिए रोजाना 30 मिनट के लिए खेल या कसरत का अभ्यास करें। अनिद्रा से निपटने में योग आपकी सहायता कैसे कर सकता है, इसके विवरण के लिए मिलें‌

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.