बड़ी खबर : इस राज्य में 15 से 24 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन , सरकार का फैसला

331

15 जुलाई से 24 जुलाई तक कर्नाटक के धारवाड़ में लॉकडाउन लागू किया जायेगा । कैबिनेट मंत्री जगदीश शेट्टार ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि 15  जुलाई को 24  जुलाई तक सुबह 10 बजे से 8 बजे तक धारवाड़ क्षेत्र में तालाबंदी की जाएगी। यह फैसला बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया गया है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

शेट्टार ने कहा कि 11 शहरों की महामारी की स्थिति पर चर्चा करने के लिए एक वीडियो सम्मेलन आयोजित किया गया था। हुबली में कर्नाटक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज पर दबाव बढ़ रहा है, क्योंकि अन्य जगहों से मरीज यहां इलाज के लिए आ रहे हैं। हमने इसे सीएम के संज्ञान में लाया। उन्होंने तालाबंदी के पीछे का कारण भी बताया। किसी को भी इस कोरोना के घातक परिणाम के बारे में पता नहीं है। बाजार में 1000 से अधिक ऐसे लोग हैं जो बिना मास्क पहने घूम रहे हैं। हमने मुख्यमंत्री से अपील की कि वह यह तय करें कि तालाबंदी लागू करना कितना महत्वपूर्ण है। ‘

Big news: complete lockdown in this state from 15 to 24 July, government's decision लॉकडाउन

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, कर्नाटक में कुल 41,581 सकारात्मक मामले हैं,

loading...

जिनमें से 24,572 सक्रिय मामले और 16,248 ठीक हुए हैं।

अब तक राज्य में 757 लोग कोविद -19 के साथ जान गंवा चुके हैं।

महाराष्ट्र सबसे संक्रमित राज्य है।

इसके बाद, तमिलनाडु और भारत की राजधानी दिल्ली सबसे संक्रमित राज्य है।

इतना ही नहीं बल्कि सबसे संक्रमित लोगों की सूची में कर्नाटक भी शामिल है।

भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 9 लाख को पार कर गई है।

इसमें से 5.53 लाख से अधिक मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो गए हैं।

सक्रिय जकड़न से उबरने वाले रोगियों की संख्या बढ़कर 2,59,894 हो गई है।

यह आंकड़ा हर दिन बढ़ता रहता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.