आरबीआई के फैसले से पहले शेयर बाजार में तेजी का रुख

0 117

भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की आज से शुरू हुई तीन दिवसीय बैठक के अंत में रिपोर्ट में कहा गया है कि समिति चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की आर्थिक विकास दर के अनुमान को कम करेगी, चीन के प्रतिबंधों को कम करने के फैसले से संबंधित कोरोना, 2022 के अंत से पहले मुनाफावसूली करने के लिए विदेशी निवेशकों की रणनीति और भारतीय शेयर बाजार के बेंचमार्क सूचकांक वैश्विक बाजारों से ताजा कारकों की कमी के कारण सप्ताह की शुरुआत में उतार-चढ़ाव के बाद मामूली गिरावट के साथ बंद हुए। नवंबर सेवा क्षेत्र के आंकड़ों ने बाजार को मंदी का समर्थन प्रदान किया। समग्र उच्च शीर्ष में स्थिरता देखी गई। खिलाड़ियों की निगाहें गुजरात विधानसभा चुनाव के सोमवार शाम को आने वाले एग्जिट पोल पर भी टिकी थीं.

मिडकैप शेयरों में सपोर्ट देखने को मिला। नवंबर की बिक्री के आंकड़ों के बाद ऑटो शेयरों में मिलाजुला रुख रहा, जबकि बैंकिंग और मेटल शेयरों में तेजी रही। बीएसई सेंसेक्स 62939.63 के ऊपरी और 62507.88 के निचले स्तर को छूने के बाद 33.90 की गिरावट के साथ 62834.60 पर बंद हुआ। निफ्टी 50 सूचकांक ने 18728.60 के उच्च और 18591.35 के निचले स्तर को छुआ और अंत में 4.95 बढ़कर 18701.05 पर बंद हुआ। बाजार की चौड़ाई सकारात्मक रही। बीएसई पर 2043 शेयरों में तेजी जबकि 1567 में गिरावट रही। 184 अपरिवर्तित रहे।

बैंक शेयरों में तेजी: फेडरल बैंक, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक, एसबीआई सहित बैंकिंग शेयरों में दिलचस्पी

सितंबर तिमाही में बैंकिंग क्षेत्र के उत्साहजनक प्रदर्शन, ऋणों में मजबूत वृद्धि और एनपीए में कमी के कारण बाजार में यह धारणा प्रचलित है कि देश का बैंकिंग क्षेत्र मजबूत स्थिति में है। बैंकिंग उद्योग के लिए अगले दशक के अच्छे होने की संभावना पर बैंक शेयरों में तेजी रही है, और इसमें कमी दिख रही है। फेडरल बैंक 4.05 रुपये की तेजी के साथ 137.30 रुपये पर बंद हुआ। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक 1.40 रुपये बढ़कर 60.40 रुपये, पीएनबी 1.15 रुपये बढ़कर 55.15 रुपये पर बंद हुआ। एसबीआई 9.75 रुपये की तेजी के साथ 617.30 रुपये पर बंद हुआ।

नवंबर की बिक्री के बाद मिलाजुला ऑटो स्टॉक: अमर राजा, अशोक लीलैंड, हीरो मोटोकॉर्प में बढ़त जबकि महिंद्रा, टाटा मोटर्स और टीवीएस में गिरावट

नवंबर की ऑटो बिक्री के आंकड़ों की घोषणा के बाद ऑटो शेयरों में मिलाजुला रुख रहा। शादियों के मौसम और ऑटो सेक्टर में बढ़ती गतिशीलता के साथ, विशेष रूप से दोपहिया वाहनों की मांग में आकर्षक वृद्धि देखी जा रही है। ऑटो क्षेत्र वर्तमान में परिवर्तन के दौर में है क्योंकि ऑटो कंपनियां पेट्रोल-डीजल वाहनों से इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन में वृद्धि कर रही हैं। अमर राजा बैटरीज 6.00 रुपये बढ़कर 659.10 रुपये, अशोक लीलैंड 1.20 रुपये बढ़कर 147.25 रुपये, एक्साइड इंड. यह 1.00 रुपये की गिरावट के साथ 191.60 रुपये पर बंद हुआ। हीरो मोटो कॉर्प 7.20 रुपए की तेजी के साथ 2827.65 रुपए पर बंद हुआ। महिंद्रा एंड महिंद्रा 4.80 रुपये की गिरावट के साथ 1259.80 रुपये पर बंद हुआ। टाटा मोटर्स 6.65 रुपये की गिरावट के साथ 428.75 रुपये पर बंद हुआ।

चीन से मांग बढ़ने की उम्मीद से मेटल शेयरों में तेजी: निफ्टी मेटल इंडेक्स 125 अंक चढ़ा

चीन के कुछ इलाकों में कोरोना से जुड़ी पाबंदियों में ढील दी गई, आर्थिक गतिविधियों के साथ ही स्टील की मांग से मेटल शेयरों में तेजी आई। यह भी उम्मीद की जा रही है कि भारत सरकार अगले बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर पर सौगात देगी। इस्पात पर निर्यात शुल्क समाप्त करने से घरेलू इस्पात निर्यात बढ़ने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। हिंडाल्को का भाव 20.10 रुपये की तेजी के साथ 481.20 रुपये, टाटा स्टील का भाव 3.85 रुपये की तेजी के साथ 115.85 रुपये, हिंद जिंक का भाव 8.65 रुपये की तेजी के साथ 314.05 रुपये, नेल्को का भाव 2.20 रुपये की तेजी के साथ 80.20 रुपये हो गया। जेएसडब्ल्यू स्टील 13.55 रुपये की तेजी के साथ 756.60 रुपये पर बंद हुआ।

विदेशी निवेशकों की शुद्ध बिकवाली हुई जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने खरीदारी की

सप्ताह के शुरुआती दिन घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने कुल 7193.09 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे जबकि वॉलेट बाजार में 4585.11 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इस तरह डीआईआई की शुद्ध खरीदारी 2607.98 करोड़ रुपये रही। दूसरी ओर, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने कुल 8618.79 करोड़ रुपये की खरीदारी की जबकि 9757.86 करोड़ रुपये की बिक्री की। इस तरह 1139.07 करोड़ रुपये की शुद्ध बिक्री हुई

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply