आयुर्वेदिक- पेट के कीड़ों मारने में लाभदायक है काली मिर्च

31

काली मिर्च किंग दुनिया भर के रसोई घरों में में किंग ऑफ़ स्पाइस के नाम से मशहूर है। काली मिर्च को आयुर्वेद में खास जगह दी गयी है। इसके कुछ आयुर्वेदिक फायदे है जो मैं आपसे शेयर कर रहा हूँ । इसे आजमाने से आपको जरूर फायदा पहुंचेगा।

1 काली मिर्च के दाने पानी के साथ पीस कर लगाने से फुंसी बैठ जाती है।

2 सुबह के समय काली मिर्च के 5 दाने बारीक पीस कर 20 ग्राम मक्खन और 20 ग्राम मिश्री मे मिला कर चाटने से खांसी में लाभ होता है।

3 गला बैठ गया हो और आवाज साफ ना निकल रही हो, तो खाना खाने के बाद काली मिर्च का चुटकीभर चूर्ण घी में मिला कर खाने से गला खुल जाता है।

4 पानी में तुलसी, काली मिर्च, अदरक, लौंग और इलायची के साथ उबाल कर इसकी चाय बना कर पीने से जुकाम व बुखार में लाभ होता है।

5 काली मिर्च को किशमिश के साथ मिला कर चबा कर खाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

6 एक कप गरम पानी में 3-4 पिसी काली मिर्च के साथ नीबू का रस मिला कर खाने से याददाश्त तेज होती है।

7 पिसी काली मिर्च को तिल के तेल में जलने तक गरम करें, ठंडा करके इस तेल को मांसपेशियों में लगाने से गठिया दर्द में फायदा होता है।

8 काली मिर्च में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लामेट्री तत्व होते है।

9 डैंड्रफ होने पर काली मिर्च पाउडर को एक कप दही में अच्छी तरह से फेंट कर बालों की जड़ों में लगाएं। आघे घंटे के बाद बालों को धो लें। अगले दिन शैम्पू करें। काली मिर्च ज्यादा इस्तेमाल ना करें। इससे सिर की त्वचा खराब हो सकती है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

बॉडी बिल्डिंग करने वाले इस फेसबुक पेज पर पा सकते हैं अच्छी जानकारी पायें Body Building And Fitness India 

loading...

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.