गुड़ और गन्ने के रस से होते हैं 6 असरकारक उपाय

185

Ayurvedic Nuskhe पुराने गुड़ को अदरक के रस के साथ सेवन करने से कफ दूर होता है। गन्ने के रस के साथ जौ की बाली पीसकर पीने से कोष्ठबद्धता (कब्ज) दूर होती है।

गन्ने के रस को पकाकर, ठण्डाकर पीने से अफारा का रोग मिटता है। पुराना गुड़ प्रसूत सम्बन्धी रोगों को दूर करता है। गन्ने के रस में शहद मिलाकर पीने से पित्त से उत्पन्न गर्मी दूर होती है।

भोजन के बीच में गुड़ का सेवन करने से शरीर में जड़ता आती है। गुड़ की पपड़ी या गुड़ की बनी चीजें खाने से दिल मजबूत होता है। भोजन के बाद गुड़ खाने से भोजन अच्छी तरह पचता है। 1 साल पुराना गुड़ नये गुड़ की तुलना में ज्यादा लाभकारी होता है।

पुराने गुड़ का सेवन हरड़ के साथ करने से पित्त नष्ट होता है और सोंठ के साथ करने से समस्त वात संबन्धी विकार दूर होते हैं।

ayurvedic Nuskhe gud-aur-ganne-ke-ras-ke-upchar

60 मिलीलीटर कच्ची मूली का रस गन्ने के रस में मिलाकर दिन में 2 बार पिलाने से कुकर खांसी में लाभ मिलता है।गर्मी के मौसम में गन्ने का रस पीने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।

1 गिलास गन्ने का रस रोजाना 2 बार पीने से सूखी खांसी में लाभ मिलता है। गन्ने का रस पीने से सूखी खांसी में लाभ मिलता है और सीने की घरघराहट दूर हो जाती है।

फ्री 400 रुपये Paytm पाने के लिए – यहां क्लिक करें

जिओ में निकली Freedom Sale :- 

Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Video Zone ::  Women Motivation Video must watch to everyone | Amazing | Inspired

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.