अस्थमा और कई बीमारीयो की दवा है ये गुणकारी पौधा जाने इसके फायेदे

1,352

 कटेरी एक प्रकार का पौधा होता है। जो जमीन में फैला होता है कटेरी के पौधे हरे रंग के और फूल बैगनी रंग के होते हैं। इस पौधे के इतने गुण होते हैं जिसे जानकर आप हैरान हो जाएंगे। कटेरी एक ऐसा पौधा है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह अस्थमा, अपच, बवासीर, कान की सूजन और पेशाब में जलन के लिए काफी फायदेमंद होता है।

SAIL  बिहार में अभी हो रही है 10वीं पास लोगो के लिए भर्तियाँ – सैलरी भी आपके मुताबिक- आवेदन करें

loading...

एमपी नेशनल हेल्थ मिशन ने दी टेक्निकल -पैरामेडिकल पर बम्पर भर्ती – जल्दी करें 

दसवीं पास वालों के लिए CISF कांस्टेबल और ट्रेडमैन में आई बम्पर भर्ती – देखें पूरी जानकारी

 

  1. 20-50 मिली कटेरी पत्ते के रस में थोड़ा शहद मिलाकर सिर में चंपी करने से इन्द्रलुप्त (गंजापन) में लाभ होता है।

  2. कटेरी के 20-30 ग्राम पत्तों को पीसकर उनकी लुगदी बनाकर आंखों पर बांधने से (आंखों का दर्द ) दर्द कम होता है।

  3. अगर दांत बहुत दुखती हो तो कटेरी के बीजों का धुआं लेने से तुरन्त आराम मिलता है। कटेरी की जड़, छाल, पत्ते और फल लेकर उनका काढ़ा बनाकर कुल्ला करने से भी दांतों का दर्द दूर होता है।

4 मिरगी भी एक गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या होती है। लेकिन कटेरी के फायदे मिरगी का इलाज करने में प्रभावी होते हैं। इसके लिए आप ताजे भटकटैया के पत्‍तों का रस निकालें। इस रस 2 बूंद मात्रा को नियमित रूप से सुबह के समय अपने नथुनों में डालें। ऐसा करने से रोगी को मिरगी के दौरे आने की संभावना कम हो जाती है।

  1. दाद एक प्रकार के जटिल समस्या है इसमें लापरवाही नहीं करनी चहिए क्योंकि यह फैलती जाती है, दाद में कटेरी के फलों के रस में सरसों का तेल बराबरा मात्रा में मिलाकर लेप करने से दाद शीघ्र नष्ट हो जाती है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.