बेटी को इन्साफ नहीं मिला इसलिए गुस्साए दंपति ने खुद को विधानसभा के सामने आग लगाने की कोशिश

346

भुवनेश्वर: ओडिशा के नयागढ़ जिले के एक व्यक्ति और उसकी पत्नी ने मंगलवार को विधानसभा के बाहर खुद को आग लगाने की कोशिश की। दंपति ने दावा किया कि उन्हें उनकी 5 साल की बेटी के अपहरण और हत्या के मामले में न्याय नहीं मिला है। विधानसभा भवन के पास तैनात सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत हस्तक्षेप किया और दंपति को रोका। इस जोड़े की पहचान अशोक साहू और सौदामनी के रूप में की गई थी। इस जोड़े ने केरोसिन छिड़ककर खुद को आग लगाने की कोशिश की लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने रोक दिया। पुलिस ने दंपति से केरोसिन की बोतल जब्त की और उन्हें हिरासत में ले लिया।

loading...

अशोक ने दावा किया कि उनकी 5 वर्षीय बेटी का 10 जुलाई को अपहरण कर लिया गया था, जब वह अपने घर के पास खेल रही थी। बाद में उसका शव घर के पीछे मिला। उन्होंने दावा किया कि हमने नयागढ़ सदर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। दो हफ्ते बाद, उसकी बेटी का शव पिछवाड़े में मिला। अशोक ने कहा, “हमने जिला पुलिस अधीक्षक और जिला कलेक्टर शिकायत सेल को सूचित किया था, लेकिन आरोपियों को सजा नहीं हुई।” उन्होंने यह भी कहा कि मुख्य आरोपी नयागढ़ जिले के एक मंत्री का सहायक था, इसलिए पुलिस राजनीतिक दबाव में कोई कार्रवाई नहीं कर रही थी।

अशोक ने आगे कहा कि आरोपी और उसके साथियों ने 26 अक्टूबर को भी उस पर हमला किया क्योंकि उसने मामले में शिकायत वापस लेने से इनकार कर दिया था। संयोगवश, जब दंपति ने खुद को विधानसभा के बाहर आग लगाने की कोशिश की, तो सदन के सदस्य राज्य की मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा कर रहे थे।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.