स्वदेशी इनोवेशन के फैन बने आनंद महिंद्रा: एक ग्रामीण लड़के ने जुगाड़ से बनाई 6 सीटर इलेक्ट्रिक बाइक

0 77

जुगाड़ से 6 सीटर इलेक्ट्रिक बाइक: जाने-माने बिजनेसमैन और महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी के चेयरपर्सन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra video) ने हाल ही में एक गांव के लड़के के स्वदेशी अविष्कार की तारीफ की है. दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें गांव का एक लड़का 6 सीटर इलेक्ट्रिक बाइक (भारतीय लड़का 6 लोगों के लिए इलेक्ट्रिक बाइक बनाता है) चलाता नजर आ रहा है, जिसे उसने खुद बनाया है।

आनंद महिंद्रा ने इस वायरल वीडियो को ट्विटर पर शेयर कर गांव के इस लड़के और उसके देसी जुगाड़ की तारीफ की है. इस वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि एक गांव का लड़का अपनी हाथ से बनी 6 सीटर इलेक्ट्रिक बाइक की डिटेल शेयर करता नजर आ रहा है.

एक बार चार्ज करने पर 150KM चलता है

30 सेकंड के इस वायरल वीडियो में लड़का कहता है, “मैंने यह 6 सीटर इलेक्ट्रिक बाइक बनाई है. इस बाइक पर ड्राइवर समेत 6 यात्री एक साथ सफर कर सकते हैं. मैंने इस बाइक को 10 से 12 हजार रुपये की लागत से बनाया है.” इस बाइक को एक बार फुल चार्ज करने पर 150 किलोमीटर तक चलाया जा सकता है, इसे फुल चार्ज करने में सिर्फ 8 से 10 रुपये का खर्च आता है.

इस बाइक को ग्लोबल लेवल पर लाया जा सकता है: आनंद महिंद्रा

आनंद महिंद्रा ने इस वीडियो को शेयर कर अपनी कंपनी के प्रमुख डिजाइनर प्रताप बोस को टैग किया और उनसे एक सवाल पूछा. उन्होंने वीडियो के कैप्शन में लिखा, ‘डिजाइन में मामूली बदलाव के बाद ही इस बाइक को ग्लोबल लेवल पर लाया जा सकता है।’

आनंद महिंद्रा ने आगे लिखा, “क्या यूरोप में भीड़भाड़ वाले पर्यटन केंद्रों में इस बाइक को टूर ‘बस’ के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है? मैं हमेशा ग्रामीण परिवहन नवाचार का प्रशंसक रहा हूं, जहां आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है।” सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो को देखने के बाद कई यूजर्स इस ग्रामीण लड़के और उसके इनोवेशन की तारीफ भी कर रहे हैं.

बाइक सवार लोगों ने बताई कमियां

इस वीडियो को अब तक 5 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं, वहीं कई लोगों ने कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया दी है. कई लोगों ने इस अनोखे आइडिया की तारीफ की तो कई लोगों ने इसकी कमियां भी गिनाईं। एक शख्स ने लिखा, “चिड़ियाघर, पार्क कॉरपोरेट कॉम्प्लेक्स जैसी जगहों पर ये गाड़ी बहुत उपयोगी हो सकती है, लेकिन भीड़ के समय या सड़क पर गाड़ी चलाना सुरक्षित नहीं है. ऐसा टर्निंग रेडियस, मोड़ते समय सेंट्रीफ्यूगल बैलेंस, रफ पर सस्पेंशन की वजह से होता है.” सड़कें, कोई सामान रखने की जगह नहीं और लोड होने पर बैटरी की कम क्षमता।”

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply