आखिर श्रीलंका को “सीलोन” क्यों कहते थे, आइये जानते हैं

298

आप शायद श्रीलंका के रूप में भारत के इस बड़े द्वीप के बारे में जानते हैं, लेकिन 1972 तक इसे सिलोन कहा जाता था। जब द्वीप सदियों पहले उपनिवेशित किया गया था तब यूरोपीय लोगों ने इसका नाम दिया था।

श्रीलंका का पुराना “सीलोन” नाम है। 1972 के पहले तक इस देश को इसी नाम से जाना जाता था। पर सन 1972 में सीलोन नाम बदलकर इसे “लंका” नाम दिया गया। परन्तु 1978 में इसके आगे सम्मान सूचक शब्द “श्री” जोड़कर इसे श्रीलंका कर दिया गया।

After all, why did Sri Lanka call 'Ceylon', let's know

यहां पर रहने वाले लोगों को श्रीलंकन कहा जाता है तथा श्रीलंका की राजभाषा सिंहला और तमिल है।

1948 तक ब्रिटिश नियंत्रण के तहत, यह एक स्वतंत्र राष्ट्र बन गया और 1972 में श्रीलंका बनने के बाद अपने औपनिवेशिक मोनिकर को फेंक दिया।

loading...

21वीं शताब्दी की शुरुआत में कुछ गृहयुद्ध के बाद, क्षेत्र अब स्थिर है। 2011 में, देश ने उपनिवेशवाद के किसी भी निवासी को हटाने के प्रयास में अभी भी सिलोन नामक किसी भी राज्य संस्थान का खिताब बदलने का फैसला किया।

After all, why did Sri Lanka call 'Ceylon', let's know

प्राचीन श्रीलंका की पहली राजधानी अनुराधापुरा थी जो लगभग 1400 वर्ष तक इस देश की राजधानी रही | उस दौर को अनुराधापूरा साम्राज्य के नाम से जाना जाता था | यही वो समय था जब भारत से बुद्ध के दांतों का अवशेष अनुराधापुरा आया था |

इसी दौर में श्रीलंका के मूल निवासी सिन्हाली ने बुद्ध धर्म को अपनाना शुरू किया | ये दौर तं खत्म हुआ जब दक्षिण भारत के राजाओं ने इस साम्राज्य पर हमला कर इस पर कब्जा कर लिया | तब श्रीलंका की राजधानी बदलकर पोलोंनारुवा कर दी गयी |

After all, why did Sri Lanka call 'Ceylon', let's know

यह अब एशिया में सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है।

आप भी एकबार श्री लंका घूमने जरूर जाइये।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.