आखिर क्यों जापान में PM होने के बावजूद में भी हो रहे है दुबारा चुनाव ? पढ़ें

261

जापान के सबसे लंबे समय तक पीएम रहे शिंजो आबे ने पेट की बीमारी से पीड़ित होकर इस्तीफा दे दिया है। पीएम के पद पर उनका कार्यकाल सितंबर 2021 तक था। आबे के इस्तीफे के बाद जापान के नए पीएम की दौड़ शुरू हो गई है। जापान के मुख्य कैबिनेट सचिव योशीहिदे सुगा भी इस दौड़ में उपस्थित रहे हैं। पीएम बनने के लिए, किसी भी नेता को पहले सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (LDP) का अध्यक्ष बनना चाहिए। कहा जा रहा है कि चुनाव 15 सितंबर को हो सकते हैं।

After all, why are there elections again in spite of having PM in Japan? जापान

loading...

योशिहिदे सुगा:

सरकार के मुख्य प्रवक्ता, योशिहिदे सुगा ने, एलडीपी महासचिव तोशीरो को पार्टी के नेतृत्व के लिए लड़ने की अपनी इच्छा के बारे में बताया है। संकट प्रबंधन क्षमताओं के लिए पार्टी के कुछ वरिष्ठ सदस्यों ने भी सुगा को बढ़ाया है। योशिहिदे सुगा को पीएम के सबसे करीबी सहयोगियों में से एक कहा जाता है। 2012 में सत्ता संभालने के बाद से, शिंजो आबे ने सरकार के शीर्ष प्रवक्ता के रूप में कार्य करना शुरू कर दिया है।

After all, why are there elections again in spite of having PM in Japan? जापान

 शिगेरु इशिबा:

पूर्व रक्षा मंत्री शिगेरु इशिबा का नाम पीएम की दौड़ में सबसे आगे बताया जा रहा है। इशिबा ने वर्ष 2012 में पार्टी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव के पहले दौर में शिंजो आबे को हराया है, जिसमें मतदान जमीनी स्तर पर होता है, लेकिन वह सांसदों के मतदान के दूसरे दौर में ही हार गए हैं। इतना ही नहीं, 2018 में इशिबा को अबे के हाथों बुरी हार का सामना करना पड़ा।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.