एक ऐसा गांव जहाँ अपने ही भाई के साथ बांटी जाती है पत्नी, गाँव का नाम जानकर होगी हैरानी

476

एक ऐसा गांव जहाँ अपने ही भाई के साथ बांटी जाती है पत्नी: यूँ तो दुनिया के हर कोने और हर शहर हर गांव में ऐसे कई रीती रिवाज है, जिन पर यकीन करना बहुत मुश्किल है पर हमारे देश मे कई ऐसे रीती रिवाज जिनके बारे में सुन कर भी आपको उन पर यकीन नहीं होगा आज जहाँ एक तरफ बहुत से शहरों में महिलाएं अपनी एक अलग पहचान बना रही है ओर वही देश के कुछ इलाके ऐसे भी है, जहाँ आज भी महिलाओ के साथ जानवरो जैसा व्यव्हार किया जाता है आज हम आपको ऐसे ही एक गांव से रूबरू करवाने वाले है, जहाँ महिलाओ को लेकर एक बड़ा अजीबोगरीब सा रिवाज बनाया गया है.

आपको जान कर जरूर ताज्जुब होगा कि यहाँ सिर्फ़ जमीन का बंटवारा न करने के लिए दो भाइयो में से एक भाई शादी नहीं करता और अपने ही दूसरे भाई की पत्नी के साथ जबरदस्ती संबंध बनाता है. अगर खबरों की माने तो दिल्ली से तीन घंटे दूर राजस्थान के अलवर जिले के एक छोटे से गांव में मनखेड़ा में ऐसी परम्परा देखने को मिलती है. परन्तु इस परम्परा को आज के समय में गैरकानूनी माना जाता है. पर फिर भी ये रिवाज कायम है. यहाँ हर घर के पास केवल थोड़ी थोड़ी ही जमीन है ओर अगर ऐसे में यदि किसी परिवार में दो भाई हो और जिनके पास कम जमीन हो तो उस परिवार में एक भाई की शादी नहीं की जाती.

loading...

जी हां उस परिवार में एक भाई अपने वैवाहिक जीवन का छोड़ देता है, ताकि जमीन का अधिक बंटवारा न हो सके. अगर सीधे शब्दों में कहे तो यहाँ भाई बलिदान नहीं देता बल्कि दूसरे भाई की पत्नी से ये बलिदान माँगा जाता है बता दे कि इस परम्परा के पीछे दो बड़े कारण बताये गए है. जिनमे से एक कारण तो महिला को पुरुष के बराबर नही समझा जाता और इसके इलावा दूसरा बड़ा कारण ये है कि यहां लोगो के पास पैसो और जमीन की कमी है.

अगर कोई महिला संबंध बनाने से मना करती है तो उसके साथ बहुत बुरा सलूक किया जाता है. वही अभी भी इस गांव के ज्यादातर पुरुष आज तक अविवाहित है वही इस गांव में महिलाओ की शादी केवल उन्नीस वर्ष में ही कर दी जाती है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.