अमरोहा के Umesh Kumar जिन्होंने जीती दुनिया, किया आकाश अपनी मुट्ठी में

1,369

15 जुलाई 1996 को उत्तर प्रदेश के अमरोहा में कई जन्म हुए होंगे पर उनमें से एक जन्म की हम बात करने जा रहे हैं, जिनका नाम है उमेश कुमार(Umesh Kumar) .आज यदि हम उनकी बात कर रहे हैं तो जाहिर सी बात है कि उन्होंने जीवन में वह मुकाम हासिल किया है। जिनकी वजह से आज हम उनकी बात कर रहे हैं। उमेश Jobsindi App और Quick Joins News Agency के CEO और Founder है. JobsIndi एक शिक्षा से संबंधित ऐप है. इस ऐप के 1मिलीयन यूजर हैं और 500k मासिक एक्टिव यूजर है। वही दूसरी ओर Quick Joins News Agency में उमेश कई लोकप्रिय वेबसाइट चलाते है।

माता-पिता(किसान का बेटा)

पिता श्री योगेश कुमार और माता श्रीमती मालती देवी के पुत्र उमेश ने ए. के.जी. इंटर स्कूल से पढ़ाई की. उमेश के माता पिता ने उन्हें हमेशा कड़ी मेहनत का महत्व सिखाया और आज शायद उन्हीं के अच्छे संस्कार के बदौलत उमेश देश दुनिया में अपना नाम बना रहे हैं। उमेश कुमार(Umesh Kumar) के पिताजी जी बहुत से भारतीयो की तरह मुख्य रूप से खेती करते है। हालांकि उन्होंने उमेश  के जन्म से ही कभी उन्हें किसी चीज की कमी नहीं आने दी और हमेशा उमेश कुमार को कुछ हटके और अलग काम करने के किये प्रेरित करते रहे और अब भी करते है।

आरंभिक जीवन और शिक्षा

उमेश भले ही आज एक ऑनलाइन ऐप के सीईओ हैं पर उनका बचपन आसान नहीं था। बचपन में तो उनका कंप्यूटर से दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं था। जब वो दसवीं कक्षा में थे तब उनके पिता अपने दफ्तर के कामों के लिए कंप्यूटर घर लायें और एक जिज्ञासु बालक होने के नाते उमेश भी कंप्यूटर का प्रयोग करने लगे। धीरे-धीरे उन्हें इंटरनेट, HTML, JAVA जैसे नए ज्ञान प्राप्त हुए।

समय के साथ उमेश कुमार(Umesh Kumar) ने कोडिंग का ज्ञान घर से ही सीखना शुरू कर दिया. कोडिंग के बारे में जानने के बाद उन्हें यह पता चला कि किसी भी ऐप को बनाने में इन्हीं प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की जरूरत पड़ती है।इसके बाद वो ऑनलाइन कोडिंग, एचटीएमएल, जावा आदि का ज्ञान बटोरने लगे। उन्होंने यह भी ध्यान दिया कि जहां से हम यह सारा ऑनलाइन ज्ञान प्राप्त करते हैं यानी कि गूगल वह कैसे काम करता है। इससे आपको उमेश की तीक्ष्ण बुद्धि समझ आ रही होगी।

इसके बाद उन्होंने प्रोग्रामिंग के जरिए वेब डिजाइनिंग और वेब डेवलपमेंट डायरेक्ट किया और अपनी 11वीं और 12वीं पूरी करते-करते उमेश प्रोग्रामिंग डिजाइनिंग आदि में पारंगत हो गए। साथ ही उन्होंने हैकिंग की विद्या भी सीखी।

कॉलेज के दिन

loading...

स्कूल के बाद उमेश ने कॉलेज में बैचलर ऑफ साइंस में रुचि दिखाई। 3 जुलाई 2014 को उन्होंने जगदीश सरण हिंदू पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज, अमरोहा में दाखिला लिया। कॉलेज के दिनों में उमेश ने खूब मेहनत की और कॉलेज खत्म होने पर उनके भीतर आत्मविश्वास की भी बढोत्तरी हुई। वो कॉलेज में हमेशा उत्तीर्ण आते रहे। उमेश ने कॉलेज में कई बेहतरीन प्रोग्राम्स डिजाइन किए। कॉलेज के दूसरे चरण में 30 से ज्यादा सॉफ्टवेयर डेवलप किए। उन्होंने यह भी कहा कि उनके दोस्तों ने भी उन्हें काफी प्रोत्साहित किया। कॉलेज में उनको सर्वश्रेष्ठ सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट का खिताब भी मिला। उन्हें खुद भी विश्वास नहीं हुआ कि उन्होंने कॉलेज में इतने बेहतरीन काम किए हैं।

JobsIndi App की शुरुआत

कॉलेज के तीसरे साल में उमेश ने Jobsindi – Sarkari Naukari App बनाने का विचार किया और सफलतापूर्वक 25 मई 2018 को उन्होंने ऐप को लांच किया जो अब गूगल के प्ले स्टोर पर उपलब्ध है। JobsIndi App के साथ साथ उमेश कुमार ने अपने उज्ज्वल भविष्य को अधिक प्रभावी ढंग से सही करने के लिए Quick Joins News Agancy की स्थापना की और वर्तमान समय में Jobs Indi और Quick Joins न्यूज़ एजेंसी में वह 8-10 वेबसाइट चला रहे है और इन सभी से उमेश 30 लोगो को रोजगार प्रदान कर रहे है।

उमेश – एक प्रभावी व्यक्तित्व

उमेश का बचपन आसान नहीं था पर फिर भी उमेश ने मेहनत और लगन से अपना नाम बनाया और उनके जीवन से आज के बच्चे, जिन्हें सफलता पाना है वो बहुत कुछ सीख सकते हैं। उमेश कुमार को भले ही इंटरनेट पर ज्यादा लोग नहीं पहचानते हैं, लेकिन जिस प्रकार उमेश कुमार(Umesh Kumar) ने अपने जीवन की शुरुआत से ही संघर्ष किया है वो लोगो के लिए काफी प्रेरणादायक साबित हो सकते है।

जो भी किसी छोटे शहर या गांव में रहता है। उसे भली भांति पता है कि गांव में(इंटरनेट पर) काम करना कितना मुश्किल होता है।

Google की तरफ से आमंत्रण

पिछले 4 सालों में उमेश कुमार ने इंटरनेट की इस फील्ड में अच्छा खासा नाम बना लिया है और उन्हें अपने इस काम का पारितोषिक तब मिला जब उन्हें Google ने अपने एक इवेंट के लिए New Delhi आमंत्रित किया और जैसा कि उमेश शुरू से ही इंटरनेट पर काम करने के मामले में लाजवाब है।

Google के उस इवेंट में उमेश कुमार को अच्छे लेखन कार्य के लिए Google Team ने पुरस्कृत किया और सर्टिफिकेट के साथ Google Home उपहार के तौर पर दिया। उस पहले इवेंट के बाद उमेश कुमार को कई बार गूगल के अलग अलग इवेंट के लिए आमंत्रित किया गया और हमेशा उमेश से उनमे अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

उमेश कुमार(Umesh Kumar) की सभी सोशल मीडिया लिंक्स

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.