रोज़ घर में पूजा करते समय 5 मिनट इस दिशा में रखे अपना मुंह इतना बरसेगा धन संभाल नही पायेंगे

279

5 मिनट इस दिशा में ईशान कोण वैसे भी देवताओं का स्थान माना गया है यहां स्वयं भगवान शिव का भी वास होता है देव गुरु बृहस्पति और केतु की दिशा भी ईशान कोण ही माना गया है यही कारण है कि यह कोण पूजा-पाठ या अध्यात्म के लिए सबसे बेहतर होता है धन की इच्छा हेतु मंदिर को उत्तर दिशा की ओर होना चाहिये।

loading...

5 minutes while worshiping at home every day, keep your face in this direction, it will not rain so much moneyपूजा घर का दरवाजा लम्बे समय तक बंद नहीं रखना चाहिए यदि पूजाघर में नियमित रूप से पूजा नहीं की जाए तो वहाॅ के निवासियों को दोषकारक परिणाम प्राप्त होते हैं पूजाघर में गंदगी एवं आसपास के वातावरण में शौरगुल हो तो ऐसा पूजाकक्ष भी दोषयुक्त होता हैं चाहे वह वास्तुसम्मत ही क्यों न बना हो क्योंकि ऐसे स्थान पर आकाश तत्व एवं वायु तत्व प्रदूषित हो जाते हैं।

जिसके कारण इस पूजा कक्ष में बैठकर पूजन करने वाले व्यक्तियों की एकाग्रता भंग होती हैं तथा पूजा का शुभ फला प्राप्त नहीं होता विधार्थियो को या ज्ञान प्राप्ति के इच्छुक व्यक्ति को पूर्व दिशा में मंदिर कि स्थापना करनी चाहिये और पूर्व दिशा की ओर मुंह करके पूजा करना चाहिए वास्तु मना करता है इन जगहों पर मंदिर जैसे घर में सीड़ियों के नीचे शौचालय या बाथरूम के बगल में या ऊपर नीचे और बेसमेंट में मंदिर का होना घर की खुशहाली और समृधि के लिए उत्तम नहीं माना जाता है

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.