भीमराव आम्बेडकर के जीवन से जुड़े 5 रोचक तथ्य, जो आपको भी बना सकते हैं सफल

1,154

डॉ. बी.आर आम्बेडकर को भारतीय संविधान के रचयिता के रूप में जाना जाता है. उन्होंने अपनी दूरदर्शिता की वजह से देश के लिए एक ऐसा संविधान तैयार किया जो सभी जाति और धर्म के लोगों की रक्षा करे.

उनकी सोच और उनके व्यक्तित्व के पीछे उनके अपने सिद्धांत थे. जिन्होंने न सिर्फ उन्हें सफल इंसान बनाया बल्कि हर ऊंचाई को छून में मदद भी की. आइए आज डॉ. बी.आर अंबेडकर की पुण्यतिथि के मौके पर उनके जीवन से जुड़ी

अहम बातों के बारे में जानें. यह बातें आपको भी अपने जीवन में सफलता दिला सकती हैंं.

कुछ जानने की इच्छा

डॉ.बी.आर आम्बेडकर बचपन से ही पढ़ने में अपने सहपाठियों की तुलना में काफी तेज थे. वह हर समय कुछ न कुछ नया जानने-सीखने को उतारू रहते थे. उनकी यही खासीयत आगे चलकर उनकी सफलता की कुंजी बनी.

आज के दौर में भी हम उनकी इस खूबी को अपने ऊपर लागू कर सकते हैं. ऐसा करने से आप भी नई चीजों से अपडेट रहेंगे और इसका फायदा आपको निकट भविष्य में जरूर मिलेगा.

समाज के प्रति अपनी जिम्मदारी का पता होना

loading...

बाबा साहेब आम्बेडकर को समाज के प्रति उनकी जिम्मेदारियों का हमेशा से पता होता था. वह चाहते थे कि वह समाज के लिए कुछ करें. ताकि उनके आसपास रहने वाले लोग बेहतर जीवन जी सकें. समाज के प्रति जिम्मेदारियों

का एहसास ही उन्हें खास बनाता था. हम भी अपने स्तर पर अपने आसपास रहने वाले लोगों के लिए कुछ कर सकते हैं. भले ही इसकी शुरुआत हम किसी जरूरतमंद बच्चे को रोजाना पढ़ाने से ही क्यों न करें. आपका रोजाना

किया जाने वाला यह प्रयास एक दिन उस बच्चे के जीवन में बड़ा बदलाव ला सकता है.

खुद पर विश्वास

बाबा साहेब अपने आप पर सबसे ज्यादा विश्वास करने वाले लोगों में से थे. यही वजह थी कि उन्हें अपने ज्यादातर फैसलों पर निराशा हाथ नहीं लगी. उन्होंने जो भी काम करने की सोची उसे विश्वास के साथ पूरा किया. आप और हम भी खुदपर भरोसा करके कई बड़े काम को सही तरह से कर सकते हैं. खुद पर भरोसा आपको भी अपने काम को सही तरह से करने की ताकत देगा.

कुछ जानने की इच्छा

डॉ.बी.आर आम्बेडकर बचपन से ही पढ़ने में अपने सहपाठियों की तुलना में काफी तेज थे. वह हर समय कुछ न कुछ नया जानने-सीखने को उतारू रहते थे. उनकी यही खासीयत आगे चलकर उनकी सफलता की कुंजी बनी.

आज के दौर में भी हम उनकी इस खूबी को अपने ऊपर लागू कर सकते हैं. ऐसा करने से आप भी नई चीजों से अपडेट रहेंगे और इसका फायदा आपको निकट भविष्य में जरूर मिलेगा.

समाज के प्रति अपनी जिम्मदारी का पता होना

बाबा साहेब आम्बेडकर को समाज के प्रति उनकी जिम्मेदारियों का हमेशा से पता होता था. वह चाहते थे कि वह समाज के लिए कुछ करें. ताकि उनके आसपास रहने वाले लोग बेहतर जीवन जी सकें. समाज के प्रति जिम्मेदारियों.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.