लंबे समय तक एक ही तकिए के इस्तेमाल से हो सकते हैं गंभीर नुकसान, जानिए इससे पहले कि देर हो

781

बहुत से लोग एक ही तकिया का इस्तेमाल बहुत दिनों तक करते हैं जिससे कई प्रकार की गंभीर बीमारियां भी हो सकती है क्योंकि उसमें मौजूद बैक्टीरिया शरीर को प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित कर सकते हैं।

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

loading...

इस सरकारी बैंक ने निकाली है बम्पर पदों पर नौकरियों ही नौकरियां  

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

1.लंबे समय तक एक ही तकिये का प्रयोग करने के बाद वह पिचक जाता है और आपको उतना सुकून नहीं दे पाता जैसा शुरुआत में देता था। कई बार आप इसे समझ नहीं पाते और नींद में खलल महसूस करते हैं।

If you using the same pillow for the longer time , then read this news

  1. तकिए के पिचकने के कारण और भी कई समस्याएं हो सकती हैं जैसे सिर के निचले हिस्से में दर्द या अकड़न एवं कई बार ऐसे में दर्द का कारण भी बन जाता है।

  2. लंबे समय बाद तकिए का घनत्व कम होने के कारण आपको सोने का तरीका भी बदलता है जिसके कारण शरीर में दर्द की समस्याएं होती हैं कई बार असहनीय दर्द भी हो जाता है।

  3. अगर आपकी रातें अक्सर करवटें बदलते हुए निकलती हैं और चैन की नींद बिल्कुल नहीं ले पा रहे हैं तो आपको अपने पुराने तकिए को बदल देना चाहिए। कई बार पुरानी तकिए के कारण भी नींद ना आने की समस्या हो सकती है।

सावधानियां

If you using the same pillow for the longer time , then read this news

  1. तकिए को समय-समय पर धोते रहें

  2. तकिए को समय-समय पर धूप में सुखाकर इस्तेमाल करें।

  3. तकिए पर हमेशा कवर चढ़ा कर रखें।

  4. एकदम नरम तकिए से भी परहेज करें।

  5. गीले बाल या फिर बालों में तेल लगाकर तकिए पर सिर न रखे। ऐसा करने से बैक्टीरिया तकिए में उत्पन्न हो जाता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.