राजनीतिक हलचल: महाराष्ट्र में भाजपा की योजना, अमित शाह ने मास्टर स्ट्रोक खेला

0 4,350
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

सूत्रों का कहना है कि भाजपा अब ‘प्लान बी’ पर काम कर रही है। उसकी ‘प्लान बी’ तैयार थी और वह इस परियोजना को अमल में लाने के लिए सही समय का इंतजार कर रही थी।

शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस एकजुट होने के प्रयास जारी रखे हुए हैं। शिवसेना मुख्यमंत्री के रूप में एनडीए गठबंधन में शामिल हो गई है। चुनाव परिणामों के 19 दिन बाद, महाराष्ट्र में अभी तक नई सरकार का गठन नहीं हुआ है।

ITI, 8th, 10th युवाओं के लिये सुनहरा अवसर नवल शिप रिपेयर भर्तियाँ, जल्दी करें अभी देखें जानकारी 
ग्राहक डाक सेवा नौकरियां 2019: 10 वीं पास 3650 जीडीएस पदों के लिए करें ऑनलाइन
दसवीं पास लोगों के लिए इस विभाग में मिल रही है बम्पर रेलवे नौकरियां

भाजपा के पहले अध्यक्ष और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट पर अपना बयान दिया। उन्होंने इस मामले में राज्यपाल की भूमिका का भी बचाव किया। शिवसेना के साथ एक राजनीतिक दरार के बाद और दोस्ती टूट गई, उन्होंने कहा, ‘हमने शिवसेना की नई शर्तों को स्वीकार नहीं किया। जहां तक ​​मुख्यमंत्री की बात है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मैं पहले ही कह चुके हैं कि अगर हम जीते तो केवल देवेंद्र फडणवीस ही मुख्यमंत्री बनेंगे।

BJP's plan to woo Congress MLAs - Congress alert!

गवर्नर बर्नार्ड एस कोश्यारी के समर्थक ने कहा, ‘सभी के पास सरकार बनाने का समय था। सरकार बनाने में 18 दिन लगे। इसके बाद ही राष्ट्रपति ने सिफारिश की। सरकार बनाने के लिए कोई समय नहीं मिला है ‘।

उन्होंने कहा, ‘राज्यपाल ने विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद ही सभी दलों को बुलाया। उसके बाद न तो शिवसेना, न एनसीपी और न ही हम बहुमत साबित कर सके। आज भी जिनके पास नंबर हैं। वही सरकार उन्होंने बनाई।

Those who work anti-India will now be given answers in their language - Home Minister Amit Shah

राजनीतिक विशेषज्ञ अमित शाह के बयान के बाद अनुमान लगा रहे हैं कि भाजपा और राकांपा मिलकर सरकार बनाने की कोशिश कर रहे हैं। कहा जाता है कि भाजपा और राकांपा के प्रमुख नेता एक-दूसरे के संपर्क में हैं और बातचीत जारी है।

जाहिर है, ऐसा लगता है कि अगर शिवसेना ने कांग्रेस-एनसीपी के साथ सरकार का दावा नहीं किया है, तो भाजपा की योजना सफल हो सकती है।

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.