मेथी में है भर भर कर पोषण, करें सेवन और पाएं खतरनाक बिमारियों से छुटकारा

0 437

मेथी (के पत्ते) या मेथी के दाने, यह भारतीय रसोईघरों में पाया जाने वाला एक बहुत ही महत्वपूर्ण खाद्यपदार्थ है। मेथी औषधीय गुणों से भरपूर है तथा यह हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए अत्यंत ही लाभवर्धक भी है। भले ही यह मेथी के दाने छोटे छोटे होते हैं पर प्राकृतिक रूप से इनमें अनगिनत स्वास्थ्य लाभ के गुण पाये जाते हैं।

मेथी के बीज में प्रभावी रोगाणुरोधी, एंटीऑक्सिडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, मधुमेह विरोधी और एंटीवायरल गुण पाएं जाते हैं। मेथी के पत्ते तथा मेथी के बीज बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं तथा इनमें पाये जाने वाले स्वास्थ्य गुणों के कारण भारतीय रसोईघरों में इनका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जाता है। पूरे मेथी के दानों का प्रयोग विभिन्न प्रकार के मसालों को तैयार करने में किया जाता है।

मेथी के पत्तों से हम विभिन्न प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन बना सकते हैं जैसे मेथी पराठा, मेथीवाली दाल, मेथी के पकौड़े आदि। मेथी के पत्तों में लोहा, कैल्शियम, फास्फोरस तथा प्रोटीन, विटामिन के अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है।”

मेथी दाना में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट तथा कई प्रकार के खनिज जैसे आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नेशियम, कॉपर, मैगनीज तथा ज़िंक आदि होते है। इसके अतिरिक्त मेथी दाना कई प्रकार के विटामिन और जरूरी पोषक तत्त्वों का बहुत अच्छा स्रोत है। जिसमे विटामिन बी6 , विटामिन ए , विटामिन सी , फोलिक एसिड, थायमिन, राइबोफ्लेविन तथा नियासिन आदि शामिल है। मेथी में कई प्रकार के फायदेमंद फीटो न्यूट्रिएंट्स भी होते है।

फीटो न्यूट्रिएंट्स पेड़ पौधों में पाए जाने वाले वे तत्त्व है जो पौधों को तो बीमारी, फंगस आदि से बचाते ही है, हमारे लिए भी बहुत लाभदायक होते है। मेथी दाना में मौजूद फायबर तथा सेपोनिन इसे आश्चर्यजनक औषधि बनाते है। इसमें म्यूसिलेज नाम का एक चिपचिपा तत्त्व होता है। मेथी को पानी में भिगोने पर यह तत्व फैलकर मल्हम जैसे जैल में परिवर्तित हो जाता है। यह जैल शरीर के तंतुओं की मरम्मत कर उन्हें मजबूत बनाने का काम करता है।”

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply