मामूली पाकिस्तानी रिक्शा चालक के अकाउंट में 2 अरब रूपए है, आखिर कहा से आया इतना पैसा ?

1,122

हाल ही में पाकिस्तान से एक हैरान कर देने वाली खबर आई जिसने हर गरीब का दिल एक पल के लिए खुश कर दिया।

दरअसल, एक पाकिस्तानी रिक्शा चालक को अचानक उसके खाते में 2 बिलियन की राशि मिली। जी हां, आपने सही सुना 2 बिलियन। जिससे सभी लोग चकित हो गए आखिरकार, 2 बिलियन एक बड़ी राशि होती है। अब पाकिस्तानी रिक्शा चालक जांच एजेंसियों के निशाने पर है।

ITI, 8th, 10th युवाओं के लिये सुनहरा अवसर नवल शिप रिपेयर भर्तियाँ, जल्दी करें अभी देखें जानकारी 
ग्राहक डाक सेवा नौकरियां 2019: 10 वीं पास 3650 जीडीएस पदों के लिए करें ऑनलाइन
दसवीं पास लोगों के लिए इस विभाग में मिल रही है बम्पर रेलवे नौकरियां

मामूली पाकिस्तानी रिक्शा चालक के अकाउंट में 2 अरब रूपए है, आखिर कहा से आया इतना पैसा ?

जैसे ही उस व्यक्ति को 2 बिलियन प्राप्त हुए वह जांच एजेंसियों की नजरों में आ गया। वह शख्स अभी भी पाकिस्तानी जांच एजेंसियों के निशाने पर है। खबर के मुताबिक, जमा राशि पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी से जुड़े कई अरब रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ी थी।

loading...

मामूली पाकिस्तानी रिक्शा चालक के अकाउंट में 2 अरब रूपए है, आखिर कहा से आया इतना पैसा ?

यह रिक्शा चालक पाकिस्तान के कराची के ओरंगी में रहता है। इस व्यक्ति का नाम अब्दुल कादिर है और वह अपनी रोजी रोटी रिक्शा खींचकर कमाता है। चूंकि वह बहुत गरीब है और उसके पास कोई स्मार्टफोन नहीं है, इसलिए उसे इस अचानक लेन-देन के बारे में कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई। जब उसे संघीय जांच एजेंसी से एक पत्र मिला तो उसे इस बारे में पता चला। इस मामले में, अब्दुल कादिर रहिवाला ने कहा, ‘मेरे भाई ने मुझे बताया कि मेरे नाम पर जांच एजेंसी से एक पत्र मिला है और मुझे इसके लिए बुलाया गया है’।

मामूली पाकिस्तानी रिक्शा चालक के अकाउंट में 2 अरब रूपए है, आखिर कहा से आया इतना पैसा ?

इस घटना के बारे में बात करते हुए, अब्दुल कादिर कहते हैं कि वह खुद को बहुत अशुभ मानते हैं। चूंकि जांच चल रही है, वैसे भी उसके लिए कोई फायदा नही है। वह कहता है कि वह सबसे बदकिस्मत व्यक्ति है, जिसके पास इतना पैसा है और वह अपनी जीवनशैली को सुधारने के लिए एक पैसा भी खर्च नही कर सकता।

इस राशि को जमा करते समय उसका हस्ताक्षर अंग्रेजी में किया गया है जबकि वह हमेशा उर्दू में हस्ताक्षर करता है और किसी अन्य भाषा को भी नहीं जानता है।

इस मामले में, एफआईए का कहना है कि अब्दुल कादिर रहिवाला के बैंक खाते में 2 अरब रुपये की बड़ी राशि पीपीपी के सह-अध्यक्ष जरदारी और उनकी बहन, फरीदपुर तालपुर से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग घोटाले से जुड़ी है। पूर्व राष्ट्रपति और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला पाकिस्तान की अदालत में है और अगस्त में भी गैर-जमानती वारंट जारी किया गया था।

इस सच्चाई के बावजूद, रिक्शा चालक बिना किसी कारण के मामले में फंस गया। अब उसे अपना काम छोड़ना होगा और जांच एजेंसी के दफ्तर के चक्कर लगाने होंगे। गरीब आदमी इस पैसे का उपयोग नहीं कर सकता है और यहां तक ​​कि केस लड़ने के लिए अपनी जेब से खर्च करना पड़ेगा।

अब्दुल कादिर की मासिक आय बहुत कम है और वे बहुत ही गरीबी में रह रहे हैं। इस मैटर ने उनकी मुश्किलें बढ़ा दी हैं। हम हमेशा बिना किसी मेहनत के अधिक से अधिक धन प्राप्त करने की प्रार्थना करते हैं लेकिन अब आप देख सकते हैं कि ऐसी स्थिति में कोई कैसे खुद को भाग्यशाली मान सकता है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.