दिल्ली में युवती के गैंगरेप के बाद मुंह पर पोती कालिख, महिलाओं ने भी किया टॉर्चर

145

गणतंत्र दिवस के दिन देशभर की निगाहें राजपथ पर टिकी थीं। राजधानी हाई अलर्ट पर थी। दूसरी तरफ, यमुनापार के शाहदरा जिले में एक शर्मसार करने वाली वारदात को अंजाम दिया जा रहा था। ऑटो से 20 साल की युवती को किडनैप कर एक किलीमीटर तक लाया गया। दो नाबालिग समेत तीन लोगों ने गैंगरेप किया। प्राइवेट पार्ट में मिर्च झोंकी। आरोपी परिवार की महिलाओं की सरपरस्ती में इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया गया। यही नहीं, गैंगरेप के बाद युवती के बाल काटे, मुंह पर कालिख पोती और गले में जूते-चप्पलों की माला डाल दी।

 

कस्तूरबा नगर में बुधवार को शर्मसार करने वाली वारदात
पीड़िता को इसी हालत में गली में घुमाया जाने लगा। वह गली में रहने वाले और अपनी बिरादरी के लोगों से बचाने की गुहार लगाती रही, लेकिन किसी ने भी उसकी मदद नहीं की। आरोपी परिवार की महिलाएं उसे लेकर खुलेआम गली में घूमती रहीं। किसी तरह पीड़िता की छोटी बहन ने दो घंटे बाद पुलिस को कॉल कर वारदात की जानकारी दी। विवेक विहार थाने की पुलिस ने पीड़िता को आरोपी महिलाओं के चंगुल से छुड़वाया। मेडिकल कराने के बाद किडनैपिंग कर गैंगरेप, मारपीट, जबरन रोकने और आपराधिक साजिश की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने सात महिलाओं को गिरफ्तार किया है, जबकि दो नाबालिगों को भी पकड़ा है जिनकी उम्र की पुष्टि की जा रही है। बाकी आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है। पीड़िता के अदालत में बयान दर्ज करवा दिए गए हैं।

 

नाबालिग की मौत का माना जिम्मेदार
पुलिस के मुताबिक, पीड़िता अपने पति और तीन साल के बेटे के साथ कड़कड़डूमा गांव में किराए पर रहती है। मायका विवेक विहार के कस्तूरबा नगर में है। पुलिस का दावा है कि शादी से पहले पीड़िता की इसी मोहल्ले के नाबालिग लड़के से दोस्ती थी। दोनों अक्सर मिलते-जुलते थे। लड़के का परिवार विरोध करता था। लड़की के परिजनों ने चार साल पहले सीमापुरी में रहने वाले युवक से उसकी शादी करवा दी। पीड़िता का एक बेटा भी हो गया। इसके बाद भी नाबालिग लड़के से मिलना-जुलना था। 16 साल के नाबालिग लड़के ने 12 नवंबर 2021 को विवेक विहार में ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी। आरोपी बेटे की मौत का जिम्मेदार लड़की को मानने लगे। लड़की तब पति के साथ मायके में ही रहती थी। आरोपी परिवार की दहशत से कड़कड़डूमा गांव में छुपकर रहने लगी।

 

महिलाओं ने रेप के लिए उकसाया
युवती की छोटी बहन ने बताया कि वह बुधवार सुबह करीब 10:45 बजे गेहूं लेकर अपनी बहन के घर के लिए निकली। आरोपी चुपचाप उसका पीछा करते हुए कड़कड़डूमा तक पीड़िता के घर पहुंच गए। करीब आधा दर्जन महिलाओं और दो नाबालिगों ने घर से युवती को अगवा कर जबरन ऑटो में बिठा लिया। आरोप है कि रास्ते में मारा-पीटा गया। कस्तूरबा नगर के एक मकान में लाकर दो नाबालिग और एक अन्य लड़के के हवाले कर दिया। पीड़िता के साथ बुरा बर्ताव करने के लिए उकसाया। आरोपियों ने अननेचरल सेक्स किया। प्राइवेट पार्ट में मिर्च पाउडर भी डाल दिया। इसके बाद बाल काटकर गंजा किया। चेहरे पर क‌ालिख पोती, गले में जूतों और चप्पलों की माला डालकर गलियों में घुमाया। दोपहर करीब 1:20 बजे पुलिस कॉल की गई। पुलिस के साथ भी आरोपियों ने धक्का-मुक्की की। पुलिस ने बमुश्किल भीड़ के चंगुल से ‌छुड़ाया।

डीसीपी (शाहदरा) आर. सत्यसुंदरम ने कहा कि विडियो के आधार पर दो नाबालिगों समेत कई आरोपियों की पहचान कर ली गई है। कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी की तलाश में पुलिस की कई टीमें छापेमारी कर रही हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.