खंडहर में नाबालिग लड़की से गैंगरेप, वीडियो बनाकर किया ब्लैकमेल

724

Crime News: भोपाल में नाबालिग छात्र व छात्रा का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल और गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोप BHEL के एक गार्ड और ठेकेदार पर लगा है. दोनों को गिरफ्तार करने के साथ ही उनके वे मोबाइल भी जब्त कर लिए हैं, जिनसे अश्लील वीडियो बनाए गए थे.

वारदात रविवार सुबह भोपाल से सटे भेल (बीएचईल – BHEL) मे हुई, जिसका ख़ुलासा अब हुआ है. जानकारी के मुताबिक, 12वीं की पीड़ित छात्रा रविवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे घर से किसी काम से निकली थी. रास्ते में BHEL के खंडहर हो चुके मकानों के पास उसकी एक दोस्त से मुलाकात हुई, दोनों वहीं बातचीत कर रहे थे. तभी उनको अकेला पाकर आरोपी डरा – धमकाकर घसीटते हुए चर्च के पीछे खंडहर में ले गए. वहां छात्रा के साथ गैंगरेप किया और अश्लील वीडियो भी बनाए.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

loading...

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

ये वीडियो मां-बाप को भेजने और वायरल करने की धमकी देकर भी दोनों को डराया – धमकाया. बदले में उनसे पैसे मांगे. उसके बाद लड़के को पैसे लेने भेज दिया औऱ फिर छात्रा से गैंगरेप किया.

वहां से निकलकर दोनों जैसे-तैसे थाने पहुंचे और पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया. पुलिस ने काफी देर तक पीड़ित छात्रा की काउंसलिंग की और फिर उसकी शिकायत पर FIR दर्ज की. छात्रा अवसाद से घिरी बताई गयी है. इसे ध्यान रखते हुए पुलिस पूरा एहतियात बरत रही है.

छात्रा की निशानदेही पर कुछ देर बाद ही पुलिस ने घेराबंदी कर दोनों बदमाशों को दबोच लिया. पूछताछ में आरोपियों ने अपने नाम रामबाबू सूर्यवंशी (35) और राकेश राजपूत (45) बताए. दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. आरोपी रामबाबू बीएचईएल में गार्ड (BHEL Guard) की नौकरी करता है.

दूसरा आरोपी राकेश ठेकेदार है. आरोपी BHEL के पुराने जर्जर हो चुके मकानों की निगरानी के लिए तैनात किए गए थे. जहां वो अवैध कब्ज़ा जमाकर रहने लगे. पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

मालूम हो, केन्द्र सरकार की सार्वजनिक क्षेत्र की बड़ी कम्पनी भेल के इन खंडहरों में पहले भी कई गंभीर वारदातें हो चुकी हैं. इसमें हत्या से लेकर ज्यादती के मामले तक शामिल हैं. पुलिस प्रशासन खंडहरों को तोड़ने के लिए पहले भी भेल प्रबंधन को पत्र लिख चुका है. पुलिस का कहना है वो ये खंडहर तोड़ने के लिए फिर भेल प्रशासन को पत्र लिखेगी.

अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.