भाई, बहनोई और उसके दोस्त ने घर में अकेला पाकर की छेड़छाड़,  जब शिकायत की तो सौतेले पिता कर डाला रेप

5,473

क्राइम : ससुराल से लौटकर आई बेटी से सौतेले पिता ने रेप कर दिया। यही नहीं सौतेले पिता के भाई, बहनोई और उसके दोस्त ने छेड़छाड़ भी की। मामला ग्वालियर शहर के पुरानी छावनी थाना क्षेत्र का है। स्टोन पार्क इलाका निवासी सत्रह वर्षीय लड़की ने मां के साथ महिला थाने पहुंचकर ऐसा आरोप लगाया है।

loading...

रिपोर्ट में बताया है कि, सौतेले पिता के भाई, बहनोई और उसके दोस्त ने घर में अकेला पाकर उससे छेड़छाड़ की। विरोध करने और चिल्लाने पर आरोपी भाग गए। मां तथा सौतेले पिता के काम से लौटकर आने के बाद उसने तीनों की शिकायत की तो पिता ने उसे सुरक्षा का भरोसा दिया और बेटी को अकेला पाकर उसके साथ गलत काम कर डाला। घटना की शिकार पीडि़ता थाने पहुंची और मामले की शिकायत की।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत पर दुष्कर्म सहित छेड़छाड़ का मामला दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार स्टोन पार्क निवासी फरियादी किशोरी के पिता का कुछ साल पहले निधन हो गया था। इसके बाद उसका मां ने बल्लू नामक युवक से दूसरा विवाह कर लिया था।

कुछ दिन पहले ही किशोरी का विवाह भितरवार में किया था। शादी के बाद वह पहली बार मायके लौटकर आई है। दो दिन पहले जब उसकी मां तथा पिता काम पर गए थे तो पिता का भाई छोटू, बहनोई मुकेश तथा पिता का दोस्त सूरज उसके घर पर आए और उसे पकडक़र छेड़छाड़ करने लगे। जब उसने इसका विरोध किया तो आरोपियों ने उसे धमकी दी तो किशोरी ने शोर मचा दिया। शोर मचाते ही आरोपी भाग निकले।

माता-पिता के काम से लौटकर आने पर पीडि़ता ने इसकी शिकायत उनसे की तो पिता ने आश्वासन दिया कि उसके साथ अब कोई गलत हरकत नहीं होगी और वह उन्हें समझा देगा। पिता के आश्वासन के बाद किशोरी आश्वस्त हो गई। इसके अगले ही दिन जब मां और पिता काम पर निकल गए। कुछ ही देर बाद उसका सौतेला पिता वापस आया और धमकाकर उसके साथ गलत काम किया।

वारदात का शिकार पीडि़ता ने मामले की शिकायत मां से की। इसके बाद मां उसे लेकर महिला थाना पहुंची। जहां पुलिस ने जांच के बाद जीरो पर मामला दर्ज कर केस डायरी पुरानी छावनी थाने भेज दी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.