फ़ैल रहे कोरोना वायरस में ये ब्लड ग्रुप वाले रखें खास ख्याल, ये ब्लड ग्रुप आपका तो नहीं

0 4,629

दुनियाभर में कोरोना (Coronavirus) के रोगियों के मरने का सिलसिला रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है. अब तक दुनिया में इस महामारी से करीब दो लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं. जबकि मरने वालों की संख्या भी आठ हज़ार से पार हो चुकी है. इसी बीच एक Coronavirus Research ने सबको चौंका दिया है. चीन में हुई एक रिसर्च में दावा किया गया है की A ब्लड ग्रुप (Blood Group) वालों को कोरोना वायरस का खतरा सबसे अधिक है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

कोरोना-वायरस-in-the-corona-virus-keep-these-blood-groups-take-special-care-this-blood-group-is-not-yours
रिसर्च में यह भी कहा गया है की जिन लोगों का ब्लड ग्रुप O है वे कोरोना वायरस के प्रतिरोधी हो सकते हैं. इस अध्ययन से इस वायरस के घातक परिणामों से बचने में काफी मदद मिलने की संभावना है. चीन के हुबेई प्रांत जिनइंतान हॉस्पिटल के शोधकर्ताओं ने एक रिसर्च में यह खुलासा किया है कि कोरोना वायरस किस ब्लड ग्रुप के इंसानों को ज्यादा प्रभावित करता है.

यह Coronavirus Research चीन के वुहान (Wuhan) और शेनझेन (Shenzhen) सिटी में की गई है. रिसर्च में कहा गया की मरने वाले लोगों में उन लोगों की संख्या अधिक थी, जिनका ब्लड ग्रुप A (Blood Group A) था. इसके अलावा, संक्रमित लोगों में भी सबसे अधिक तादाद भी A ब्लड ग्रुप वालों की है. वहीं, O ब्लड ग्रुप वाले लोगों की संख्या मरने वालों में और संक्रमित लोगों में सबसे कम पाई है.

ब्रिटिश अखबार ‘डेली मेल’ (Daily Mail) में छपी इस रिसर्च के अनुसार, सेंटर फॉर एविडेंस बेस्ड एंड ट्रांसलेशनल मेडिसिन (Center for Evidence Based and Translational Medicine) में यह रिसर्च की गई. इस रिसर्च में शोधकर्ताओं ने लिखा कि A ब्लड ग्रुप टाइप वालों को कोरोना वायरस के अधिक सावधान रहने की जरूरत है. इस शोध के लिए वुहान शहर और शेनझेन में 2,173 संक्रमित और 3,694 स्वस्थ्य लोगों के ब्लड ग्रुप की तुलना कर यह दावा किया है.

शोध (Coronavirus Research) में यह भी दावा किया गया है की ओ ब्लड ग्रुप के 26 प्रतिशत लोग ही इस वायरस से संक्रमित पाये गए. जबकि शेनझेन में इलाज कराने वालों में 31.16 प्रतिशत लोगों का ब्लड ग्रुप टाइप ए था. वहीं वुहान के स्थानीय जिनयिंतन अस्पताल में इलाज करा रहे 37.75 प्रतिशत लोगों का भी ब्लड ग्रुप A ही था.

हालांकि, अगर आपका ब्लड ग्रुप भी A है तो भी आपको डरने की जरूरत नहीं है. बल्कि आप रिसर्च (Coronavirus Research) के खुलासों से खुद को इस बीमारी से बचा सकते हैं. इसके लिए आपको आवश्यक दिशा निर्देश फॉलो करने चाहिए और किसी भी ऐसे व्यक्ति से दूर रहना है जो सर्दी या जुकाम से पीड़ित हो.

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply