इस तारीख पर भारत में कोरोना की लहर पीक पर होगी

1,660

Corona Update : भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के कुल तीन लाख छह हजार के करीब केस आए हैं, जबकि रविवार को कोरोना के कुछ 3 लाख 33 हजार मामले सामने आए थे. ऐसे में अधिकतर विश्लेषकों का मानना है कि भारत में कोरोना की लहर पीक पर आ चुकी है. लेकिन इसी बीच आईआईटी मद्रास से भी एक राहत भरी खबर सामने आई है. आईआईटी मद्रास (IIT Madras) के विश्लेषकों के मुताबिक, लगातार दूसरे हफ्ते भारत की आर-वैल्यू में गिरावट दर्ज की गई है.

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की दर बताने वाली ‘आर-वैल्यू’ 14 जनवरी से 21 जनवरी के बीच और कम होकर 1.57 रह गई है.

शोधकर्ताओं के विश्लेषण के अनुसार, अगले 14 दिनों में 6 फरवरी तक कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों का पीक आने की संभावना है. इससे पहले पूर्वानुमान जताया गया था कि 1 फरवरी से 15 फरवरी के बीच तीसरी लहर का चरम आएगा. क्या है आर-वैल्यू (What Is R-Value) आर-वैल्यू बताती है कि एक व्यक्ति कितने लोगों को संक्रमित कर सकता है. अगर किसी कोरोना संक्रमित की आर-वैल्यू एक है, तो उसकी ओर से एक और व्यक्ति को संक्रमित किए जाने का खतरा है. वहीं, अगर किसी व्यक्ति की आर-वैल्यू तीन है, तो वह तीन लोगों को संक्रमित कर सकता है. आईआईटी मद्रास के विश्लेषण के अनुसार, 14 जनवरी से 21 जनवरी के बीच आर-वैल्यू 1.57 दर्ज की गई, जो 7 से 13 जनवरी के बीच 2.2, एक से छह जनवरी के बीच 4 और 25 दिसंबर से 31 दिसंबर के बीच 2.9 थी.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.