इस चीज को खाने के बाद आपको किसी तरह की प्रोटीन की जरूरत नहीं, जिम जाने वाले लोग जान लें

2,352

आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको खाने के बाद आपको किसी तरह की प्रोटीन की जरूरत नहीं पड़ेगी। हम आपको बताने जा रहे हैं कालेन अण्डों के बारे में, काले अंडे आस्ट्रेलिया के इमो पक्षी द्वारा मिलते हैं। इमो के अंडे में इतनी ज्यादा प्रोटीन पायी जाती है कि अगर आप इसका एक अंडा नियमित रूप से सेवन करते हैं तो आपको किसी भी प्रोटीन पदार्थ जो आप बाजार से शरीर को बनाने के लिए लाते हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

loading...

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन
1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

उनकी आपको कोई जरूरत नहीं पड़ेगी। बच्चों और जो लोग जिम जाते हैं उनके लिए ये अंडे बहुत ही उपयोगी होती हैं। आपको बता दें कि इमो का पालन अभी छत्तीसगढ़ और झारखंड में ही होता है किन्तु इसे कही भी पाला जाता सकता है। आपको बता दें कि झारखंड के गंडके गांव में रहने वाली बसंती नाम की महिला आस्ट्रेलियन इमो बर्ड का पालन कर रही है। वो इमो के एक अंडे को एक हजार रुपए के हिसाब से बेचती है। किन्त इनकी संख्या अब बढ़ती जा रही है और इसके एक अंडे की कीमत 50-100 तक हो गई है।

You do not need any kind of protein after eating this thing, people who go to the gym should knowशरीर के अन्दर प्रोटीन की कमी को ये अंडे पूर्ण रूप से ख़त्म कर देते हैं। आपको बता दें कि इन अण्डों के बारे में अफवाह भी फैलाई जा रही है कि ये अंडे काली मुर्गी से मिलते हैं। यह पूर्ण रूप से गलत है। हमारी टीम द्वारा जब सच्चाई जानने की कोशिश की गई तो पता चला कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाई जा रही है क्योंकि कोई भी काली मुर्गी काले अंडे नहीं देती है। यह काले अंडे तो दिखाए जा रहे हैं वो इमो नामक पक्षी के हैं जो आस्ट्रलिया में बहुतायक रूप से पाया जाता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.